Breaking News

हिमाचल नागरिकों को उत्कृष्ट स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने वाला अग्रणी राज्यः कौल सिंह ठाकुर

स्वास्थ्य चिकित्सा पर व्यय किए जा रहे हैं 1689 करोड़
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री कौल सिंह ठाकुर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश अपने नागरिकों को गुणात्मक एवं घर द्वार के समीप स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने वाला देश में अग्रणी राज्य है। उन्होंने कहा कि राज्य अनेक स्वास्थ्य मानकों में देशभर में अव्वल है, लेकिन सुधार की संभावनाएं हमेशा रहती है, इसलिये राज्य सरकार इस क्षेत्र को और मजबूती प्रदान करने के लिये स्वास्थ्य क्षेत्र में अनेक नये आयाम स्थापित करने के प्रयास कर रही है।
स्वास्थ्य मंत्री आज प्रसिद्व पर्यटन स्थल कुफरी में हि.प्र. आफथालमाॅलोजिकल सोसायटी के द्वितीय द्विवार्षिक सम्मेलन एवं स्वर्ण जयंती मीट के उद्घाटन अवसर पर संबोधित कर रहे थे।
Souvenir Releases HP Ophthomalogical society at Kufri
 ठाकुर ने कहा कि राज्य में चालु वित्त वर्ष के दौरान स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा पर 1689 करोड़ रुपये व्यय किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में स्थापित किये जा रहे चार नये मेडिकल कालेजों में सिरमौर जिले के नाहन स्थित डा. वाई.एस. परमार मेडिकल कालेज में इस वर्ष से कक्षाएं आरंभ की जाएंगी, जबकि चम्बा तथा हमीरपुर कालेजों को भी शीघ्र क्रियाशील बनाया जाएगा। इसके अलावा मंडी के नेरचैक में 850 करोड़ की लागत से स्थापित इएसआईसी मेडिकल कालेज एवं अस्पताल को भी शीघ्र आरंभ किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि आईजीएमसी शिमला राज्य का एक बेहतरीन चिकित्सा संस्थान हैं तथा इसका और अधिक विस्तार किया जा रहा है। आईजीएमसी के दबाव को कम करने के लिये इसका एक अतिरिक्त परिसर चम्याणा में स्थापित किया जा रहा है तथा इसके लिये 250 बीघा भूमि उपलब्ध करवाई जा चुकी है। दंत चिकित्सा अस्पताल व नर्सिंग कालेज को भी अन्यत्र स्थानांतरित किया जाएगा। प्रधानमंत्री स्वास्थ्य योजना के अंतर्गत स्वीकृत 150 करोड़ रुपये की राशि से आईजीएमसी को स्त्तरोन्नत किया जा रहा है। इसी प्रकार टांडा अस्पताल में 45 करोड़ रुपये की लागत से सुपर स्पैशियलिटी खंड का निर्माण किया गया है तथा इस कालेज में गत साढे़ तीन वर्षों के दौरान लगभग 250 पदों को भरा गया है। आईजीएमसी में विभिन्न श्रेणियों के 600 पद भरे गए हैं।
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य की अधिकांश आबादी गांवों में बसती है और ग्रामीण लोगों को उनके घर द्वार के समीप स्वास्थ्य उपचार सेवाएं उपलब्ध करवाने के उद्देश्य में राज्य के विभिन्न भागों में गत साढ़े तीन वर्षों के दौरान 145 नये स्वास्थ्य संस्थान खोले अथवा स्त्तरोन्नत किए गए हैं। रिक्त पड़े चिकित्सकों के पदों को भरने की प्रक्रिया लगातार जारी है और निकट भविष्य में राज्य में पर्याप्त चिकित्सक उपलब्ध हो जाएंगे।
उन्होंने कहा कि राज्य की स्वास्थ्य कवरेज देश की औसत से कहीं बेहतर है। राज्य में 2990 लोगों के लिये एक स्वास्थ्य उपकेन्द्र उपलब्ध है जबकि राष्ट्रीय औसत 5615 व्यक्तियों की है। यहां 12921 व्यक्तियों के लिये एक एक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र व 80208 व्यक्तियों के लिये एक सामुदायिक केन्द्र की सुविधा है जो राष्ट्रीय स्तर पर क्रमशः 34641 व 1.72 लाख व्यक्तियों के लिये उपलब्ध हैं। हम स्वास्थ्य उपचार पर प्रति व्यक्ति 26 हजार रुपये खर्च कर रहे हैं जो देशभर में अव्वल है।
स्वास्थ्य मंत्री ने चिकित्सकों से आम नागरिकों को सुलभ एवं बेहतर उपचार सेवाएं प्रदान करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि चिकित्सकों में सेवा व समर्पण की भावना का होना अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि आंख हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग है, और राज्य सरकार इसके उपचार को हर संभव उपकरण उपलब्ध करवा रही है। उन्होंने कहा कि दो दिवसीय सम्मेलन के दौरान विशेषज्ञ चिकित्सकों के अनुभव का तथा आंखों के उपचार में नई तकनीकों पर परस्पर संवाद से इस फील्ड के चिकित्सक लाभान्वित होंगे और भविष्य में बेहतर उपचार करने के लिये सक्षम होंगे।
 कौल सिंह ठाकुर ने इस अवसर पर आफथालमाॅलोजिकल सोसायटी की एक स्मारिका का विमोचन भी किया। उन्होंने अमेरिका में डब्बल क्रिस्टिलाईट लेन्स के अविष्कार के लिये सम्मानित हिमाचल से संबद्ध सुप्रसिद्व चिकित्सक डा. जगत राम को सम्मानित किया। उन्होंने पेपर प्रस्तुति के लिये डा. बलराम को प्रथम पुरस्कार, डा. आकांक्षा को दूसरा जबकि डा. दिप्ती व डा. मोहित को तृतीय पुरस्कार वितरित किए।
आईजीएमसी के प्राचार्य डा. अशोक शर्मा ने भी अपने विचार रखें। इससे पूर्व एसोसियेशन के अध्यक्ष एस.के. शर्मा तथा महासचिव डा. जी.सी राजपूत ने स्वागत किया जबकि डा. परवीन ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया।
        पीजीआई चण्डीगढ़ से डा. एम.आई. पाण्डे तथा डा. एम.आर. डोगरा, संगठन सचिव डा. आर.के. गुप्ता तथा राज्य के विभिन्न भागों से आफथालमाॅलोजिस्ट भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com