Breaking News

VHP ने हिमाचल में बढ़ते धर्मान्तरण व रोजगार की आड़ में आने वाले प्रवासीयों के पंजीकरण के बाबत CM को ज्ञापन सौंपा

एप्पल न्यूज़, शिमला

विश्व हिन्दू परिषद् हिमाचल प्रदेश का प्रांत स्तरीय प्रतिनिधि मंडल प्रांत अध्यक्ष लेख राज राणा के नेतृत्व में प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर से प्रदेश में बढ़ रहे धर्मान्तरण, लव जिहाद तथा बाहरी राज्यों से मजदूरी की आड़ में आने वाले लोगों के पंजीकरण के सदर्भ में मिलकर ज्ञापन सौंपा। माननीय मुख्यमंत्री ने उक्त समास्याओं पर ठोस कदम उठाने का आशवासन दिया। यह जानकारी विश्व हिन्दू परिषद् के प्रांत अध्यक्ष लेखराज राणा ने शिमला से प्रैस को जारी एक वक्तव्य में दी।

लेखराज  राणा ने कहा की हमने माननीय मुख्यमंत्री से समक्ष प्रदेश की बेसहारा गौ के संरक्षण का विषय भी मानीनय मुख्यमंत्री के समक्ष रखा, तथा प्रदेश में प्रखंड स्तर तक गौशाला खोलने का विषय रखा, जिस पर भी माननीय मुख्यमंत्री ने गंभीरता से विचार करने का आश्वासन दिया।
इस मौके पर विश्व हिन्दू परिषद् प्रांत मंत्री देव कुमार नेगी, प्रांत संगठन मंत्री नीरज दौनेरिया, प्रांत सह मंत्री सुनील जस्वाल, प्रांत विशेष सम्पर्क प्रमुख गोविन्द ठाकुर, प्रांत समन्वय प्रमुख शमशेर ठाकुर, प्रांत सयोंजक बजरंग दल अधिवक्ता तुषार डोगरा उपस्थित रहे।

ज्ञापन की प्रति संलग्न है –
                                दिनांकः   11/08/2019
सेवा में,
  माननीय मुख्यमंत्री
मुख्यमंत्री हिमाचल प्रदेश
शिमला  ।

विषय – हिमाचल प्रदेश में बढ़ते धर्मान्तरण तथा बाहरी राज्यों से रोजगार की आड़ में आने वाले प्रवासीयों के पंजीकरण के सदर्भ में।
महोदय,
विश्व हिन्दू परिषद् हिमाचल प्रदेश की ओर से यह ज्ञापन आपकी सेवा में प्रषित है। हमें आशा है कि आप इस ज्ञापन में उठाये गये मुद्दो पर गंभीरता से विचार करेंगे और इसके क्रियान्वयन को सुनिश्चित करेगें।
हिमाचल प्रदेश देवभूमि के नाम से विख्यात है। लेकिन पिछले कुछ बर्षो से प्रदेश में बाहरी राज्यों से रोजगार, व्यापार, मजदूरी की आड़ में आने बाले प्रवासियों की संख्या में बृद्धि हुई है, जिस कारण से प्रदेश के शांन्त वातारण को ऐसे उपद्रवियों द्वारा अशांत किया जा रहा है, जो यहां पर अपनी मूल पहचान छुपा कर यहां पर अवैध रुप से रह रहे है, जिन्होने न तो यहां पर पुलिस प्रशासन के पास कोई पंजीकरण करवाया है, और न प्रशासन के पास ऐसे लोगों का कोई आधिकारिक रिकोर्ड़ है। जिस कारण से देव भूमि में धर्मान्तरण, लव जिहाद, गौ हत्या, तस्करी, तथा देश विरोधी घटनाओं में वृद्धि हुई है। ऐसे अपराधी प्रवृति के लोग किसी भी अपराधिक घटना को अजांम देकर आसानी से बच निकलते है। बाहरी राज्यों से मजदूरी की आड़ में आने वाले ऐसे सभी लोगों का प्रशासन के पास पंजीकरण जरूरी किया जाए जिससे अपराधी प्रवृति के ऐसे लोगों की पहचान की जा सके।
महोदय प्रदेश में पिछले लम्बे समय से धर्मान्तरण की गतिविधियों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। प्रदेश के भोले-भाले हिन्दुओं को पैसे के बल पर सेवा के नाम पर धर्म परिवर्तन को मजबूर किया जा रहा है। आज प्रदेश में अनेक स्थानों में धर्मान्तरण का गोरखधंधा जोरो पर है। बस्तियों में पैसे के बल पर लोगों को प्रलोभन देकर ईसाई धर्म में जाने के लिए मजबूर किया जा रहा है।
महोदय, हिमाचल के सभी जिलों में ईसाई धर्मान्तरण के कारण उनकी संख्या में बेतहासा बृद्धि हुई है। ऐसे ही मुस्लिम आबादी भी तीव्र गति से बढ़ रही है, जिसके कारण मुस्लिम धर्मान्तरण के उद्देश्य से भोली-भाली हिन्दू लड़कियों को लव जिहाद का शिकार बना रहे हैं। प्रत्येक थाना क्षेत्र में लव जिहाद के मामले दर्ज हुए है, जो कि अत्याधिक चिन्ताजनक है, जिससे हिमाचल की सुरक्षा खतरे में पड़ गई है।
हम आपसे आग्रह करते है धर्मान्तरण की गतिविधियों में जो सलिप्त पाए जाते है उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कानूनी कारवाई की जाए, तथा प्रदेश सरकार, धर्मान्तरण पर कठोर कानून बनाए, जिससे प्रदेश में धर्मान्तरण की गतिविधियों में रोक लगाई जा सके।
हमें आपसे आशा एवं पूर्ण विश्वास है कि उक्त विषयों की गंभीरता को समझते हुए प्रदेश सरकार कानून बनाकर प्रशासन को उचित कदम उठाने हेतू दिशा निर्देश जारी करेंगे।  

भवदीय,
लेखराज राणा देव कुमार नेगी
(प्रांत अध्यक्ष वि.हि.प.)                

(प्रांत मंत्री वि.हि.प.)

previous arrow
next arrow
Slider

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
smart-slider3