राज्यपाल का बाला सुन्दरी न्यास को श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाने के निर्देश

राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने बाला सुन्दरी मंदिर न्यास त्रिलोकपुर के सरकारी तथा गैर सरकारी सदस्यों तथा जिला प्रशासन को श्रद्धालुओं को मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने तथा इसे प्रदेश का धार्मिक पर्यटन केन्द्र के रूप में विकसित करने के निर्देश दिए।
राज्यपाल ने मंदिर परिसर में पर्याप्त सुविधाएं उपलब्ध न होने पर कड़ा संज्ञान लिया, जहां पर वर्ष भर में लाखों पर्यटक भ्रमण करते हैं। उन्होंने कहा कि आस्था का केन्द्र होने के बावजूद यहां पर भ्रमण पर आने वाले लोगों को स्थायी शौचालय, स्नानागार व पार्किंग इत्यादि सुविधाएं उपलब्ध नहीं है। उन्होंने उपायुक्त श्री वी.सी. बडालिया इसके लिए को तत्काल वृहद कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए ताकि प्रभावी कदम उठाए जा सकें।
उन्होंने कहा कि इसमें कोई भी कोताही बदार्श्त नहीं की जाएगी, क्योंकि प्रदेश व राज्य के बाहर के लोगों का इन धार्मिक स्थलों पर अटूट विश्वास है। ऐसे में हमारा दायित्व बनता है कि श्रद्धालुओं द्वारा दिए गए दान का क्षेत्र के विकास पर ईमानदारी से खर्च किया जाए। उन्होंने कहा कि क्षेत्र का सौदर्यीकरण भी किया जाएगा और जिला प्रशासन को निर्देश दिए कि मंदिर परिसर के विस्तार की सभी औपचारिकताएं शीघ्र पूरी की जाएं। उन्होंने कहा कि मंदिर परिसर में पर्याप्त मात्रा में स्थाई शौचालय का निर्माण किया जाएगा और उपायुक्त के सुनिश्चित बनाना होगा कि मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधा उपलब्ध करवाने के प्रयास किए जाएं।
मुख्य संसदीय सचिव विनय कुमार, पुलिस अधीक्षक सौम्या, जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी, पंचायत के जन प्रतिनिधि इस अवसर पर उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

*मैं शिव हूँ।* *मैं शिव हूँ।* *मैं शिव हूँ।*

Thu Feb 23 , 2017
विभत्स हूँ… विभोर हूँ… मैं समाधी में ही चूर हूँ… *मैं शिव हूँ।* *मैं शिव हूँ।* *मैं शिव हूँ।* घनघोर अँधेरा ओढ़ के… मैं जन जीवन से दूर हूँ… श्मशान में हूँ नाचता… मैं मृत्यु का ग़ुरूर हूँ… *मैं शिव हूँ।* *मैं शिव हूँ।* *मैं शिव हूँ।* साम – दाम […]