राज्यपाल ने किया पार्वती अस्पताल का उद्घाटन

      राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने गुणात्मक चिकित्सा सेवाओं के विस्तार के साथ-साथ लोगों से पारम्परिक भारतीय जीवन पद्धति को अपनाने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि बढ़ते हुए चिकित्सा संस्थानों के बावजूद रोग और रोगियों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है, जिस पर चिंता करने की आवश्यकता है।
\"1-1\"
     राज्यपाल आज हमीरपुर जिले के भोरंज विधानसभा क्षेत्र के दशमाल में पार्वती अस्पताल के उद्घाटन अवसर पर बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि सर गंगा राम अस्पताल, नई दिल्ली तथा सर गंगा राम न्यास समिति के सहयोग से पार्वती एजुकेशन एण्ड हैल्थ सोसाइटी द्वारा संचालित इस अस्पताल में विभिन्न गंभीर रोगों के उपचार के साथ डायलासिस की सुविधा उपलब्ध करवाई गई हैं। उन्होंने कहा कि स्वस्थ व्यक्ति ही समाज व राष्ट्र की सबसे बड़ी पूंजी है । उन्होंने स्वस्थ सोच के साथ-साथ दैनिक दिनचर्या में सुधार का आग्रह किया।
राज्यपाल ने ग्रामीण क्षेत्र में उच्च स्तरीय अस्पताल के निर्माण के लिए डॉ. डी.एस. राणा को बधाई देते हुए कहा कि अपने पैतृक गांव में अपनी माता के नाम पर अस्पताल का निर्माण कर उन्होंने जननी और जन्म भूमि दोनों का सम्मान किया है। उन्हांने उम्मीद जताई कि ग्रामीण लोगों के लिए उपचार में यह अस्पताल वरदान सिद्ध होगा।
पूर्व मुख्यमंत्री तथा नेता प्रतिपक्ष प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने राज्यपाल का स्वागत किया तथा कहा कि यह प्रदेशवासियों का सौभाग्य है कि राज्य को संवेदनशील, सामाजिक समस्याओं को समझने और उनका निदान करने के लिए तत्पर व्यक्तित्व वाले राज्यपाल मिले हैं। उन्होंने पार्वती एजुकेशन एण्ड हैल्थ सोसाइटी का आभार व्यक्त किया तथा कहा कि यहां स्वास्थ्य उपचार की बेहतर सुविधाएं उपलब्ध होने से लोगो के प्रदेश से बाहर नहीं जाना पड़ेगा।
 उन्होंने डॉ. राणा के प्रयासों की प्रशंसा करते हुए कहा कि राज्य के लिए यह गौरव की बात है कि उन्हें स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के लिए पद्मश्री सम्मान से सम्मानित किया गया है। उन्होंने कहा कि अपने गांव, लोग व समाज से जुड़े रहने के लिए डॉ. राणा बधाई के पात्र हैं।
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री कौल सिंह ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार विशेष तौर पर ग्रामीण क्षेत्रों में सुदृढ़ एवं बेहतर स्वास्थ्य  सेवाएं उपलब्ध करवाने के लिए प्रयासरत है। गत चार वर्षों के दौरान अनेक चिकित्सा संस्थान ग्रामीण क्षेत्रों में आरम्भ किए गए अथवा स्तरोन्नत किए गए। उन्होंने कहा कि गत चार वर्षों के दौरान ग्रामीण क्षेत्रों में ही 32 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों को नागरिक अस्पतालों में स्तरोन्नत किया गया।उन्होंने कहा कि प्रदेश में गुणात्मक स्वास्थ्य उपचार तथा स्वास्थ्य कार्यक्रम कार्यान्वित किए जा रहे हैं, जिनके अन्तर्गत पात्र व्यक्तियों को निःशुल्क चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध  करवाई जा रही हैं।
सर गंगा राम ट्रस्ट सोसाइटी के अध्यक्ष अशोक चंद्रा ने भी इस अवसर पर अपने विचार व्यक्त किए। पार्वती एजुकेशन एण्ड हैल्थ सोसाइटी तथा सर गंगा राम अस्पताल प्रबंधन बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. डी.एस राणा ने राज्यपाल तथा अन्यों का स्वागत किया। उन्होंने अस्पताल के उद्घाटन के लिए राज्यपाल का आभार व्यक्त किया।
 सोसाइटी के सचिव कर्नल बलवंत ठाकुर ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया। विधायक डॉ. अनिल धीमान, पूर्व संसदीय सचिव श्रीमती अनिता वर्मा, जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
इसके पश्चात्, राज्यपाल ने ज्ञान गंगा गउ सेवा संस्थान ब्लयूट का भी दौरा किया तथा गउ पालन व नस्ल सुधार के लिए संस्थान को 50 हजार रुपये देने की घोषणा भी की।
Share from A4appleNews:

Next Post

दून की जनता को 60 करोड़ की विकास परियोजनाएं समर्पित

Wed May 3 , 2017
  मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने आज दून निर्वाचन सभा क्षेत्र के प्रवास के दौरान लगभग 60 करोड़ रुपये की विभिन्न विकास परियोजनाओं के लोकार्पण किए और आधारशिलाएं रखीं। उन्होंने 2.16 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित कोटला-हरिपुर सड़क के स्तरोन्यन के उद्घाटन के अलावा बद्दी-शीतलपुर सड़क पर 6.36करोड़ रुपये के […]

Breaking News