हमीरपुर का शाहिद राजकीय सम्मान के साथ पंचतत्व में विलीन

जम्मू-कश्मीर के राजौरी सेक्टर में पाकिस्तान की गोलाबारी में शहीद हुए हमीरपुर के सूबेदार शशि कुमार का पार्थिव शरीर आज यानी शुक्रवार को उनके पैतृक गांव गलोल लाया गया।

यहां पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। शहीद के अंतिम दर्शन के लिए लोगों का सैलाब भारी उमड़ा।

सभी ने नम आंखों से शहीद शशि कुमार को अंतिम विदाई दी। जालंधर स्थित सेना की 9 कोर की टुकड़ी ने शहीद को सलामी दी।

शहीद के अंतिम संस्कार में प्रशासन की ओर से एसडीएम नादौन अमित मेहरा और बीजेपी विधायक विजय अग्निहोत्री शामिल हुए।

शहीद के बेटे ने उनके पार्थिव शरीर को मुखाग्नि दी। विजय अग्निहोत्री ने कहा की शहीद के नाम का कोई स्मारक या सड़क उनकी याद में बनवाई जाएगी।

गौरतलब है कि पाकिस्तान की ओर 18 जुलाई को की गई गोलाबारी में सूबेदार शशि कुमार गंभीर रूप से घायल हो गए थे। 19 जुलाई को आर्मी अस्पताल उधमपुर में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी।

मौसम की खराबी के कारण शहीद का शव वाया रोड लाया गया, जिससे पहुंचने में देरी हुई। भारतीय सेना की 19 पंजाब रेजिमेंट में सेवारत थे और अगस्त महीने में रिटायर होने वाले थे।

 

Share from A4appleNews:

Next Post

Thu Aug 3 , 2017

You May Like

Breaking News