Breaking News

गणतंत्र दिवस पर हिमाचल में तिरंगे का अपमान

Exclusive…

एप्पल न्यूज़, शिमला
गणतंत्र दिवस के पावन मौके पर जब देश भर में हर सर हमारे देश की आन बान और शान तिरंगे झंडे के आगे झुक रहा था उसी क्षण हिमाचल प्रदेश के एक पूर्व विधायक इसी तिरंगे का अपमान कर रहे थे।
पूर्व विधायक ने सोशल मीडिया में गणतंत्र दिवस की शुभकामनाओं का एक मैसेज तिरंगे के साथ अपनी फोटो लगाकर वायरल किया। लेकिन हैरानी तब हुई जब उसमें बनाए तिरंगे को ही उल्टा लगा दिया।


जी हां, लाहौल स्पीति के पूर्व विधायक रवि ठाकुर ने उल्टे तिरंगे वाली फोटो के साथ अपनी फोटो भी लगा रखी है और साथ ही गणतंत्र दिवस का संदेश भी दिया है।
रवि ठाकुर कांग्रेस के विधायक रहे हैं। यही नहीं वर्तमान में अनुसूचित जनजाति आयोग के उपाध्यक्ष भी हैं। ऐसे में आप समझ सकते हैं कि संवैधानिक पद पर बैठे व्यक्ति से इतनी बड़ी चूक कैसे हुई।

आप इस तस्वीर में साफ देख सकते हैं कि बाकायदा तिरंगा तो लगाया लेकिन उल्टा, जिससे तिरंगे का अपमान हुआ है। रवि ठाकुर ने बाकायदा अपना फोटो और उस पर अपना नाम व पद भी दर्शाया है। वहीं दूसरी तस्वीर में आप देख सकते हैं ग्रामीण भारत की तस्वीर। नंग धड़ंग शरीर पर कपड़ा नहीं है। मासूम बच्चे हैं। सबने मिलकर अपने तरीके से गणतंत्र दिवस मनाया और राष्ट्रीय ध्वज फहराकर तिरंगे को सम्मान दिया।
ये मासूम बच्चे जानते हैं इस तिरंगे का सम्मान कैसे किया जाता है, लेकिन संवैधानिक पद पर बैठे व्यक्ति इस बात से अनजान है। जिस तिरंगे की रक्षा के लिए हजारों जवानों ने अपने शीश कटा दिए, सीने छलनी कर दिए लेकिन तिरंगे को झुकने नहीं दिया वहीं ऐसे नेता अनजान से नजर आ रहे हैं।
तिरंगे में तीन रंग होते हैं। सबसे नीचे हरा रंग, मध्य में सफेद और सबसे ऊपर केसरी रंग के साथ मध्य में अशोक चक्र सुशोभित रहता है।

उधर, जब इस बारे में पूर्व विधायक रवि ठाकुर से सम्पर्क किया गया तो उन्होंने इसे शरारती तत्वों की साजिश बताया। उन्होंने कहा कि हो सकता है कांग्रेस आईटी सैल के किसी कार्यकर्ता ने ऐसा किया हो। उन्हें इसकी जानकारी नहीं है और न ही उन्हें फोटो को एडिट करना आता है। फिर भी ऐसा क्यों हुआ, इसकी जानकारी जुटाएंगे।

लेकिन आप देख सकते हैं कि जिस नम्बर से यह फोटो सोशल मीडिया पर वायरल किया गया है वह नम्बर भी रवि ठाकुर के नाम से ही है। यह बात रवि ठाकुर ने भी स्वीकार की लेकिन कहा कि यह नंबर किसी और के पास रहता है। किसी ने जानबूझकर उनके इस नम्बर से इस तरह की फोटो शेयर की है। अब इस बात में कितनी सच्चाई है यह तो बता नहीं सकते लेकिन इस तरह का कृत्य निश्चित रूप से अशोभनीय है।

previous arrow
next arrow
Slider

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
smart-slider3