Breaking News

शिमला में माकपा ने किया घोषणा पत्र जारी, 18 हजार करेंगे मजदूरों का न्यूनतम वेतन

एप्पल न्यूज़, शिमला

आगामी लोकसभा चुनावों में यदि माकपा का प्रत्याशी जीतता है तो मजदूरों का न्यूनतम वेतनमान 18 हजार करने के साथ कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना को प्राथमिकता के आधार पर लागू करवाया जाएगा। यह वादा माकपा ने अपने घोषणा पत्र में किया है। लोकसभा चुनावों के लिए माकपा ने अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया है।

गुरूवार को घोषणा पत्र जारी करते हुए माकपा नेताओं ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है। पार्टी नेताओं ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाए हैं कि उनके कार्यकाल में किसान-बागबान, मजदूर व व्यापारी वर्ग की हालत बेहद खराब हुई है। माकपा के राज्य सचिव मंडल सदस्य व विधायक राकेश सिंघा ने कहा कि भाजपा सरकार में अमीर और अमीर होता जा रहा है, जबकि गरीब की हालत बद से बदतर हो रही है। नोटबंदी और जीएसटी ने देश की आर्थिक व्यवस्था का ढांचा ही हिला दिया है। सीपीएआईएम ने प्रदेश में चार में से एक सीट पर चुनाव लड़ने का फैसला लिया है। मंडी लोकसभा क्षेत्र से सीपीआईएम अपना प्रत्याशी उतारेगी, जबकि तीन लोकसभा सीटों पर माकपा कांग्रेस के प्रत्याशियों को समर्थन देगी।
घोषणा पत्र में यह है खास

  • मजदूर का न्यूनतम वेतनमान 18 हजार करवाना
  • पुरानी पेंशन योजना को लागू करवाना
  • एकल नारी को पेंशन दिलवाना
  • भूमिहीन किसानों को पांच बीघा जमीन का मामला
  • जंगली जानवरों की समस्या को हल करवाना
  • बेरोजगारी भत्ता न्यूनतम 3000 सुनिश्चित करवाना
  • युवा खेल एवं संस्कृति केंद्र स्थापित करना
  • ठेका प्रथा बंद कर स्थायी रोजगार का प्रावधान करना
  • सैनिकों का वन रैंक वन पेंशन मामला लागू करवाना
  • रूसा को बदलकर पुराने पैटर्न पर लागू करवाना
  • महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण लागू करवाना
    – स्वास्थ्य विभाग के 38 फीसदी रिक्त पदों को भरना
    – करूणामूलक आधार पर नौकरी का प्रावधान करवाना
previous arrow
next arrow
Slider

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
smart-slider3