Breaking News

कांग्रेस के हाथों में कभी सुरक्षित नहीं रहे हिमाचल के हित, कांग्रेस को वोट मतलब प्रदेश की बर्बादी- सतपाल सत्ती

एप्पल न्यूज़, ऊना

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने कांग्रेस पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि “हिमाचल के हित कभी कांग्रेस के हाथों सुरक्षित नहीं रहे।” अपने शासनकाल में कांग्रेस अगर ईमानदारी से शासन करती तो आज हिमाचल देश के सर्वश्रेष्ठ राज्यों में से एक होता परन्तु कांग्रेस ने एक षड़यन्त्र के तहत जानबूझ कर प्रदेश को पिछड़ा रखने की नीति अपनायी। जिसके चलते हिमाचल कभी भी अपनी क्षमता का पूर्ण दोहन ही नहीं कर पाया। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा हिमाचल से धोखा ही किया है। पूर्व धूमल सरकार के दौरान बीबीएमबी में हिमाचल की हिस्सेदारी को लेकर सर्वोच्च न्यायालय ने हिमाचल को लगभग 43 सौ करोड़ रूपये देने का फैसला सुनाया था। परन्तु केन्द्र की तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने हिमाचल के हितों के साथ खिलवाड़ करके उस फैसले को कानूनी अड़चनों में उलझा कर रख दिया। इस के साथ हिमाचल प्रदेश के विशेष औद्योगिक पैकेज को खत्म और विशेष राज्य का दर्जा छीन कर कांग्रेस ने हिमाचल को बरबाद करने मे कोई कसर नहीं छोड़ रखी थी। 

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश के प्रति सबसे घृणित अपराध तो कांग्रेस ने उस समय किया जब 13 वें वित्त आयोग ने देश के अन्य सभी राज्यों को 150 प्रतिशत आर्थिक वृद्धि दी परन्तु हिमाचल प्रदेश को यह वृद्धि मात्र 50 प्रतिशत् दी और इसमें सबसे दुर्भाग्य पूर्ण पहलू यह था कि केन्द्र में हिमाचल प्रदेश से दो केन्द्रिय मंत्री थे जो हिमाचल के साथ हो रहे भेदभाव और धोखे से पूर्ण रूप से संलिप्त थे और उन्हें प्रदेश के हितों के बजाय पार्टी हित ज्यादा महत्वपूर्ण नजर आ रहे थे। 

सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि हिमाचल के हितों की चिन्ता हमेशा भाजपा ने की है। जब भी केन्द्र या प्रदेश में भाजपा की सरकार रही है हिमाचल ने विकास के नये आयाम स्थापित किये हैं। अटल जी के शासनकाल में रामपुर, पार्वती व कोलडैम जैसी बड़ी परियोजनाओं की आधारशीला रखी गयी। प्रदेश के गांवो की सड़कों से जोड़ने का काम तेजी से प्रारम्भ हुआ। प्रदेश को विशेष औद्यौगिक पैकेज मिला। अरबों रूपये को आर्थिक सहायता मिली। परन्तु कांग्रेस नेताओं को इस बात के लिये शर्म नहीं आती कि उनके कांग्रेस के कार्यकाल में प्रदेश को आर्थिक सहायता के नाम पर एक फूटी कौड़ी भी नहीं मिली। 

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मोदी के शासनकाल में तो हिमाचल को मिल रही सहायता ने तो सारे रिकार्ड तोड़ दिये हैं। विशेष राज्य के दर्जे की बहाली के साथ-साथ 14 वें वित्त आयोग ने पिछले सारे भेदभावों को खत्म करके हिमाचल को अन्य राज्यों की तुलना में 235 प्रतिशत अधिक आर्थिक वृद्धि दी है। मात्र सवा साल की अवधि में 14 हजार करोड़ रूपये की आर्थिक सहायता देकर भाजपा ने दिखा गया है कि डबल ईन्जन की सरकार किसे कहते है। 

प्रदेश की जनता अटल व मोदी की एहसानमन्द,

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि दलीय राजनीति के चलते भले ही कांग्रेस नेता नरेन्द्र मोदी के हिमाचल के प्रति इस प्यार की उपेक्षा करें या उनके प्रति अभद्र भाषा का प्रयोग करें। परन्तु प्रदेश की जनता अटल और मोदी के प्रति सम्मान और एहसानमन्द है और इस बात को भी जानती है कि कांग्रेस को वोट करने का अर्थ है हिमाचल की बर्बादी की कहानी को पुनः शुरू करना जो प्रदेश की जनता गलती कभी नहीं दोहरायेगी। 

From Una

previous arrow
next arrow
Slider

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

WP2FB Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
smart-slider3