Breaking News

जयराम ठाकुर बोले- नकली गांधी पिता-पुत्र ने राष्ट्रीय सुरक्षा भी खतरे में डाली

एप्पल न्यूज़, शिमला 
हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं वरिष्ठ भाजपा नेता जयराम ठाकुर ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा है कि लुटेरे बाप-बेटे और उनके विदेशी रिश्तेदारों ने देश को बुरी तरह लूटा और अपने ऐशों-आराम के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा को भी खतरे में डाल दिया। अपने ऊंचे खानदान की अकड़ में ये लोग खुद को सुप्रीम कोर्ट से भी ऊपर समझते हैं। अन्य विपक्षी नेताओं में न तो ईमानदारी है और न ही विजन। इसलिए देश के सामने प्रधानमंत्री पद के लिए नरेन्द्र मोदी के अलावा कोई और उपयुक्त विकल्प नहीं है।  

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह तथ्य जगजाहिर हो चुका है कि प्रधानमंत्री रहते हुए राजीव गांधी ने भारतीय नौसेना के जंगी जहाज आई.एन.एस. विराट और नौसेना के हेलीकाॅप्टरों का इस्तेमाल एक समुद्री टापू पर दस दिन तक परिवार के साथ मौज-मस्ती करने के लिए किया। इस दौरान उस संवेदनशील जंगी जहाज पर उनके विदेशी ससुराल वाले भी मौजूद थे। यह वह समय था जब जंगी जहाज विराट को भारतीय जल सीमा की सुरक्षा के लिए दक्षिणी क्षेत्र के समुद्र में तैनात किया गया था। उन्होंने कहा कि एक तरफ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हैं जिन्होंने पांच साल के कार्यकाल में एक दिन भी छुट्टी नहीं ली। उन्होंने होली, दिवाली और रक्षाबंधंन जैसे महत्वपूर्ण त्योहार भी सीमाओं पर तैनात सैनिकों के बीच जाकर मनाए। दूसरी तरफ राजीव गांधी ने प्रधानमंत्री पद का दुरूपयोग करके जंगी जहाज को दस दिन तक मौज-मस्ती के लिए इस्तेमाल करके सीमाओं की सुरक्षा खतरे में डाली। खतरनाक बात यह है कि उनके विदेशी ससुराल वाले बिल्कुल अवैध ढंग से युद्धपोत पर सवार हुए। इन सबके पिकनिक के लिए नौसेना के हेलीकाॅप्टर भी लगाए गए। राजीव गांधी ने प्रधानंमत्री रहते हुए बोफोर्स घोटाला भी किया जिसका भूत आजतक उनका पीछा नहीं छोड़ रहा है।  जयराम ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री के पद के सपने देख रहे राहुल गांधी ने भी राष्ट्रीय सुरक्षा को गंभीर नुक्सान पहुंचाया। जब डोकलाम में भारतीय सेना चीनी सेनाओं के सामने डट कर खड़ी थी और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चीन पर कूटनीतिक दबाव बना रहे थे, राहुल गांधी रात के अंधरे में चीनी राजदूत के घर पर गुप्त बैठकें कर रहे थे। यह बात उजागर होने पर राहुल ने इसका खंडन किया। लेकिन चीनी दूतावास ने खुद पुष्टि कर दी कि उनके राजदूत से राहुल गांधी ने गोपनीय भेंट की थी। उन्होंने कहा कि हजारों करोड़ के आर्थिक घपले में जमानत पर छूटे राहुल गांधी रफैल डील इसलिए सार्वजनिक करना चाहते हैं ताकि पाकिस्तान और चीन को भारतीय सुरक्षा से जुड़ी गोपनीय जानकारियां मिल जाएं। जबकि यह एक ऐसा रक्षा सौदा है जिसमें फ्रांस और भारत, दोनों के हित समान रूप से जुड़े हैं। उन्होंने राहुल गांधी पर पाकिस्तान के इमरान खान के अलावा खतरनाक जिहादी आतंकवादियों मसूद अजहर और हाफिज़ सईद की भाषा बोलकर भारत कि जनता के साथ धोखा करने का आरोप भी लगाया। उन्होंने कहा कि राहुुल गांधी के आतंकवादियों के समर्थन वाले और सेना के पराक्रम को चुनौती देते बयानों की तारीफ ये आतंकवादी खुलेआम करते हैं। भारत से ज्यादा राहुल गांधी की लोकप्रियता पाकिस्तान में है। भाजपा नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के हवाले से अत्यंत आपत्तिजनक बयान पर राहुल गांधी को आखिरकार अदालत में बिना शर्त माफी मांगने पर मजबूर होना पड़ा। हैरानी की बात ये है कि उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से अपने तीसरे हलफनामें में यह माफी मांगी क्यांेकि ऐसा न करने पर उन्हें सीधे जेल भी भेजा जा सकता था। उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा को नीलाम करने वालों को जनता कभी भी प्रधानमंत्री नहीं चुन सकती। उन्होंने कहा कि पांच साल में प्रधानमंत्री मोदी की सरकार ने विकास, राष्ट्रीय सुरक्षा और अतंर्राष्ट्रीय धाक के मामले में देश को एक नई पहचान दी। राहुल गांधी जैसे जोकर किस्म के गैर जिम्मेदार नेता यदि सत्ता में आए तो देश हर मामले में दशकों पीछे चला जाएगा।

previous arrow
next arrow
Slider

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
smart-slider3