Breaking News

पीएम मोदी को ‘नई दुल्हन’ कहने पर इंदु ने की सिद्दू की निंदा

एप्पल न्यूज़, कांगड़ा

भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्षा इंदू गौस्वामी ने प्रधानमंत्री की तुलना ‘नई दुल्हन’ से करने वाले नवजोत सिंह सिद्धू के बयान की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि इससे उनकी स्त्री विरोधी मानसिकता का पता लगता है। उन्होंने कहा कि सिद्धू का यह बयान उनकी स्त्री विरोधी बीमार मानसिकता को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि एक ओर भारतीय महिलाएं हर क्षेत्र में नई-नई उपलब्धियां हासिल कर रहीं है और सिद्धू उनको केवल अपने स्त्री विरोधी चश्में से देखते हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह के बयान देकर कांग्रेस पार्टी यह दिखाना चाहती है कि देश व प्रदेश की आधी आबादी कमजोर और गई-गुज़री है। सिद्धू को महिलाओं से माफी मांगनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि महिलाओं के प्रति अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल करके सिद्धू ने कांग्रेस के दावों की पोल खोल दी है। कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने हाल ही में पार्टी के गुंड़ों से परेशान होकर कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने आरोप लगाया था कि राहुल गांधी कांग्रेस में महिलाओं के खिलाफ गुंड़ागर्दी को बढ़ावा दे रहे हैं।

भाजपा नेत्री ने कहा कि आज कांग्रेस राजनीति में अपने निम्नतम स्तर तक गिर चुकी है। इस पार्टी के नेताओं को यह भी याद नहीं है कि झांसी की रानी से लेकर आज तक महिलाओं ने घर परिवार की जिम्मेदारी निभाने के साथ-साथ समाज और देश के लिए बड़ी-बड़ी कुर्बानियां दी हैं। सिद्धू के बयान में प्रधानमंत्री की तुलना “नई दुल्हन“ से करना एक पुरूषवादी सामंत सोच का प्रतीक है। यह कांग्रेस पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं की सोच को ही नहीं बल्कि संस्कारों को भी उजागर करता है।

उन्होंने कहा महिलाएं आज नरेन्द्र मोदी सरकार में विदेश मंत्री और रक्षा मंत्री जैसे अत्यंत महत्वपूर्ण पद संभाल रही हैं। आज महिलाएं अपने घर, खेत, पंचायत, दफ्तर, टैªफिक, सैन्य मोर्चा, विधानसभा और संसद संभालने से लेकर फाइटर विमान तक उड़ा रही हैं। देश के बहुमुखी विकास में महिलाओं का योगदान उल्लेखनीय रहा है। आज़ादी की लड़ाई में भी महिलाओं ने अंग्रेजों से लोहा लिया था।

उन्होंने नवजोत सिंह सिद्धू और कांग्रेस नेताओं को महिलाओं को सम्मान करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि जो पार्टी महिलाओं का सम्मान नहीं कर सकती उसे उनसे वोट मांगने का कोई अधिकार नहीं है। कांग्रेस के सिद्धू को अपने शर्मनाक बयान के लिए महिलाओं से माफी मांगनी चाहिए।

previous arrow
next arrow
Slider

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

WP2FB Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
smart-slider3