Breaking News

किन्नर कैलाश यात्रा के लिए प्रशासनिक अनुमति आवश्यकः उपायुक्त

एप्पल न्यूज़, किन्नौर

उपायुक्त किन्नौर गोपाल चंद ने कहा कि किसी भी पर्वतारोही व श्रद्धालु को किन्नर कैलाश ट्रैक पर बिना प्रशासनिक स्वीकृति के जाने की अनुमति नहीं होगी।

उन्होंने कहा कि जिले में ट्रैकिंग का आयोजन करने वाले टूअर ऑपरेटरों को पर्यटन विभाग के साथ अपना पंजीकरण अनिवार्य होगा तथा उन्हें ट्रैकिंग गतिविधि शुरू करने से पहले निकटतम पुलिस स्टेशन में ट्रैकर्स की सूचि उपलब्ध करवानी होगी। टूअर ऑपटरों को ट्रैकिंग खत्म होने के बाद भी पुलिस स्टेशन में ट्रैकरस की सूची जमा करवानी होगी।

अवैध साहसिक ट्रैकिंग गतिविधियों को लेकर आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए उपायुक्त ने कहा कि हिमाचल प्रदेश विविधक साहसिक गतिविधियां नियम, 2017 के अनुसार जिले में किसी भी ट्रैकिंग गतिविधि पर्यटन अधिकारी को पूर्व अनुमति से की जा सकेगी। इसके अलावा, ट्रैक कैम्पिंग की अनुमति वन विभाग से लेनी अनिवार्य है।

उपायुक्त ने स्थानीय नागरिकों से भी जिला प्रशासन का सहयोग करने का आह्वान करते हुए कहा कि वे बाहर से आने वाले लोगों को किन्नर कैलाश ट्रैक की ओर जाने की सलाह नहीं दें। उन्होंने प्रशासनक के अधिकारियों से कहा कि किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए किन्नर कैलाश प्रवेश द्वार पर सूचनात्मक संदेश लगाए जाएं। पुलिस अधीक्षक किन्नौर को किन्नर कैलाश की तरफ जाने वाले यात्रियों को रोकने के लिए जवान तैनात करने के आदेश दिए गए हैं।

गोपाल चंद ने बताया कि किन्नर कैलाश यात्रा-2019 मौसम की स्थिति पर विचार करने के बाद ही शुरू की जाएगी। आधिकारिक तिथि से पहले किसी को भी ट्रैक करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

बैठक में पुलिस अधीक्षक साक्षी वर्मा, एसडीएम कल्पा सुरेन्द्र ठाकुर, गृह रक्षा के कमांडेंट सुरेश कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. पदम नेगी व अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

previous arrow
next arrow
Slider

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

WP2FB Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
smart-slider3