Breaking News

लक्कड़ बाजार बस स्टैंड ऑकलैंड टनल की बजाय ढली में हो शिफ्ट

एप्पल न्यूज़, शिमला
लक्कड़ बाजार बस स्टैंड को ऑकलैंड टनल के समीप शिफ्ट करने पर विचार कर रही है। कसुम्पटी के विधायक अनिरुद्ध सिंह के सवाल के जवाब यह जानकारी मंत्री ने दी। अनिरुद्ध ठाकुर ने कहा कि लक्कड़ बाजार बस स्टैंड में एडीबी प्रोजेक्ट का काम शुरू होना अच्छी बात है। लेकिन लॉंगवुड के रास्ते पर स्कूल, कॉलेज पड़ता है। इसलिए जाम बढ़ेगा और इससे लोगों को दिक्कत होगी। ऐसे में ऑकलैंड के समीप बस स्टैंड बनाना उचित नहीं होगा।
उन्होंने कहा बस स्टैंड शिफ्ट होना चाहिए पर ढली के लिए। ढली में बस स्टैंड के लिए पर्याप्त स्थान है और ट्रैफिक से भी छुटकारा मिलेगा।
मंत्री ने कहा शिमला शहर के लिए क्या उपयुक्त है। इस पर चर्चा करेंगे।
शिमला ग्रामीण के विधायक विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि ऑकलैंड टनल के समीप आईजीएमसी की ओपीडी भी तैयार हो रही जब वह कार्यान्वित होगी, तो जाम की समस्या बढ़ेगी इसलिए ढली में बस अड्डा बनाना सही होगा।
इस पर शिक्षा मंत्री ने कहा कि शिमला, कसुम्पटी व शिमला ग्रामीण के हम तीनों विधायक मामले पर चर्चा करेंगे। हम तीनों भले ही अलग अलग राजनीतिक दल से है लेकिन सोच हमारी एक है।
इस पर नरेंद्र बरागटा ने कहा कि लक्कड़ बाजार बस अड्डा बहुत पुराना है। शिमला जिला के सभी क्षेत्र की बसें यहां से जाती है।
उन्होंने कहा कि सीएम इस पर संज्ञान ले और बस स्टैंड किसी अच्छी जगह बनाये। ऑकलैंड टनल में बस स्टैंड बनाकर कहीं लेने के देने न पड़े। मंत्री ने कहा आइस स्केटिंग रिंक में बहुत कम स्केटिंग होती है। इसलिए इसका उपयोग बहुद्देशीय रूप से हो सके इसके लिए काम किया जा रहा है। जाम की समस्या से निपटने के लिए ही ऑकलैंड टनल बनाई गई थी। उन्होंने कहा लक्कड़ बाजार बस स्टैंड नही बल्कि बस स्टोप है। बस स्टैंड आईएसबीटी में है।
उन्होंने कहा कि मामले पर विचार किया जाएगा, कहां बस स्टैंड कहाँ बस स्टॉप होना चाहिए , इस पर विचार किया जायेगा।

प्रश्नकाल के दौरान भाजपा विधायक कमलेश ने पूछा कि क्या सरकार कम उम्र की विधवाओं और उनके पालन पोषण के लिए कोई योजना बना रही है? इस पर मंत्री राजीव सैजल ने कहा कि सरकार समाज के कमजोर वर्ग के लिए संजीदा है। सरकार की बजट घोषणा में भी विस्तृत ब्यौरा दिया गया है और सरकार उन सभी वादों को अमल में ला रही है।

मंत्री ने कहा की ऐसी महिलाओं के लिये आईटीआई और नर्सिंग प्रशिक्षित कोर्सेस में आरक्षण दिया जा रहा है। स्किल डिवेल्पमेंट और सेल्फ हेल्प कार्यक्रम के ज़रिए आसान शर्तों पर ऋण की सुविधाएं उप्लब्ध करवाई जा रही है। ऐसे परिवारों के लिए सहायता राशि 40 हज़ार से 51 हज़ार किया गया है।

वहीं, मुकेश अग्निहोत्री ने सवाल किया कि सरकार ने अभी तक कितने कर्मचारियों को सेवा विस्तार दिया, जिसपर सीएम ने कहा जानकरी जुटाई जा रही।

उधर, ज्वालामुखी के भाजपा विधायक रमेश ध्वाला ने पूछा कि आयुर्वेद विभाग में चतुर्थ श्रेणी दैनिक वेतन भोगियों को कब तक नियमित किया जाएगा, जबकि 184 पद खाली हैं। स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार ने कहा कि प्रदेश में इस समय आयुर्वेद विभाग में 194 दैनिक वेतन भोगी हैं। 9 को सेवा 5 साल से कम है। ये तभी नियमित होंगे जब पद खाली होंगे । इस विषय को प्राथमिकता से लिया जा रहा है। ऐसी प्रस्तावना सरकार के विचाराधीन है। वित्त विभाग को भेजा गया है।

previous arrow
next arrow
Slider

One comment

  1. विश्वजीत महाजन

    सबसे उचित यह रहेगा कि लक्कड़ बाज़ार बस स्टैंड को संजोली के पास ढली बाई पास पर आई एस बी टी के आधार पर बनाया जाय जहां से सवारियों और बस वालो ड्राइवरों सहित सभी को बेहद सुविधा और पहुँच होगी । यहां से बस वालों को जहां सवारी आसानी से मिलेगी वहीं सवारियों का अपने गंतव्य तक पहुंचना भी आसान होगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
smart-slider3