Breaking News

असम के मीडिया प्रतिनिधिमण्डल ने महापौर और पुलिस महा निदेशक से की मुलाकात

एप्पल न्यूज़, शिमला

असम के एक मीडिया प्रतिनिधिमण्डल ने शिमला में एक सप्ताह के हिमाचल प्रदेश में अपने ‘गुड विल मिशन’ के दौरान शिमला स्मार्ट सिटी मिशन, जल प्रबन्धन निगम जिसमें शिमला नगर निगम की जलापूर्ति, निगरानी प्रणाली के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की। महापौर कुसुम सदरेट व उप-महापौर राकेश शर्मा ने प्रतिनिधिमण्डल का स्वागत किया और उन्हें सम्मानित किया।

नगर निगम के आयुक्त पंकज रॉय ने नगर निगम की कार्य प्रणाली पर आधारित प्रस्तुति दी। प्रस्तुति में नगर निगम द्वारा विकसित ई-विधान सॉफटवेयर और स्लॉटर हाउस की कार्य प्रणाली जो देश में सर्वश्रेष्ठ है, मुख्य रूप से शामिल थे। उन्होंने ‘वेस्ट टू एनेर्जी’, सिवरेज प्रणाली, रज्जू मार्ग परियोजना आदि के बारे में भी विस्तार में जानकारी दी।इस अवसर पर स्मार्ट सिटी परियोजना और शहर में जलापूर्ति प्रणाली के बारे में भी प्रस्तुति दी गई।प्रतिनिधिमण्डल ने पुलिस महानिदेशक एस.आर. मरड़ी से भी मुलाकात की।  मीडिया कर्मियों से बातचीत करते हुए पुलिस महानिदेशक ने पुलिस की विभिन्न योजनाओं विशेषकर सामुदायिक पुलिस और अपराध को कम करने के लिए पुलिस द्वारा उठाए गए कदमों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने नशे के बढ़ते प्रभाव और इसकी रोकथाम के लिए उठाए जा रहे कदमों के सम्बन्ध में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि नशे की तस्करी को रोकना सरकार के लिए एक बड़ी चुनौती है। उन्होंने कहा कि राज्य में इस समय अफीम के आदी व्यक्तियों की संख्या 1.7 प्रतिशत है, जो पंजाब में 2.8 प्रतिशत है। नशा निवारण समिति सरकार के साथ नशे की प्रवृति के विरूद्ध कार्य कर रही है। यह समिति पंचायत स्तर तक जाकर कार्य करेगी और इस समिति का सदस्य पंचायत का कोई भी व्यक्ति बन सकता है और इसे पुलिस विभाग नियंत्रित कर रही है।उन्होंने कहा कि इंजीनियरिंग, प्रवर्तन और शिक्षा का प्रयोग राज्य में दुर्घटनाओं को कम करने के लिए किया जा रहा है। उन्हांने कहा कि राज्य की भौगोलिक परिस्थिति के कारण प्रदेश में दुर्घटनाओं की सम्भावना अधिक रहती है और प्राकृतिक आपदाओं से भी लोगों की जान को खतरा रहता है।पुलिस महानिदेशक ने कहा कि तीसरा बड़ा विषय महिला सुरक्षा है और राज्य पुलिस इन अपराधों के प्रति सचेत है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने सभी सार्वजनिक पर और अधिक अप्रत्यक्ष सीसीटीवी कैमरा लगाए हैं। उन्हेंने कहा कि शिमला के सार्वजनिक स्थानों पर लगभग 20 अप्रत्यक्ष सीसीटीवी कैमरा अपराध को रोकने में पुलिस की सहायता कर रहे हैं। उन्होंने यातायात पुलिस की कार्य प्रणाली और नए सड़क सुरक्षा अधिनियम को राज्य में लागू करने के सम्बन्ध में भी जानकारी दी। सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग असम के संयुक्त निदेशक के.बारगोहेयर और वरिष्ठ सूचना अधिकारी समर कालिता ने पुलिस महा निदेशक को इस अवसर पर सम्मानित किया। इससे पूर्व, प्रतिनिधिमण्डल ने सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग (हिमाचल प्रदेश) के अधिकारियों से बातचीत की, जिसमें पत्रकारों को दी जाने वाली विभिन्न सुविधाओं  मान्यता प्रक्रिया, विभिन्न अनुभागों जिनमें तकनीकी, विज्ञापन और गीत एवं नाट्य के सम्बन्ध में चर्चा की गई।इसके उपरान्त प्रतिनिधिमण्डल ने प्रेस क्लब शिमला का दौरा किया, जहां उन्हें प्रेस क्लब के प्रधान अनिल भारद्वाज तथा अन्य वरिष्ठ सदस्यों ने सम्मानित किया।  प्रतिनिधिमण्डल और प्रेस क्लब के सदस्यों ने मुख्य रूप से दोनों राज्यों की सांस्कृतिक परंपराओं, विरासत और रीति-रिवाजों के विषय पर चर्चा की।

previous arrow
next arrow
Slider

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
smart-slider3