Breaking News

जयराम ने फूंका ‘हरी टोपी’ वाला रावण….!

एप्पल न्यूज़, शिमला

अरे …अरे…अरे….. ये क्या है भाई….. रावण को तो हरी टोपी पहनाई है…! हां यार…. ये क्या चक्कर है…? कई सालों से लगातार जाखू आ रहा हूँ दशहरा देखने …भाई पर ऐसा तो पहली बार देख रहा हूँ…!

ये बातें शिमला के ऐतीहसिक जाखू मंदिर में राज्यस्तरीय दशहरा के अवसर पर देखने सुनने को मिली। बुराई पर अच्छाई का प्रतीक रावण दहन यूँ तो श्रीराम द्वारा किया जाता है लेकिन अब कलयुग में सब बदल गया है। अब रावण के दहन का एकाधिकार राजनेताओं को है।

ऐसा ही जाखू में देखने को मिला। यहाँ खुद प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर रावण दहन को पहुंचे। जलाया भी हाईटेक तरीके से रिमोट का बटन दबाकर। तभी अचानक एक शख्स की नजर पड़ी और बोल उठा- अरे ये तो ‘हरी टोपी’ वाला रावण है।

बस फिर तो आसपास के कई लोगों की नजरें हरी टोपी वाले रावण पर ही टिक गई लेकिन तभी क्षण भर में रावण अग्नि में भस्म हो गया। लेकिन चर्चाएं शुरू हो गई कि आखिर हरी टोपी का राज़ क्या है।

दरअसल, हिमाचल प्रदेश में हरी टोपी को कांग्रेस की पहचान माना जाता है। कांग्रेस सरकारों में हर कार्यक्रम में सभी को सम्मानित करने के लिए हरी टोपियों का ही इस्तेमाल होता है। लेकिन सत्ता जब भाजपा को मिलती है तो हरी दरकिनार हो जाती है और इसके स्थान पर महरून टोपी काबिज हो जाती है।

बस इसी पर चर्चा थी कि आखिर क्या माजरा है जो जयराम जी ने इस बार हरी टोपी वाला रावण फूंका। लोग तो इसे दलगत राजनीति से भी जोड़ रहे हैं। तो यहाँ क्या रावण को हरी टोपी से सम्मानित किया गया था…? या फिर रावण को भी किसी पार्टी विशेष से जोड़ दिया है।

अब आयोजकों का इसके पीछे क्या ‘थीम’ था ये तो वही जाने पर ‘हरी टोपी’ वाला रावण जरूर चर्चा में है। यूँ, इन दिनों हिमाचल में दो विधानसभा उपचुनाव भी चल रहे हैं। भाजपा के समक्ष दोनों ही सीटों पर बागियों ने मुसीबतें खड़ी कर रखी है। तो कांग्रेस की भी राहें आसान नहीं। अब कहीं ये टोटका तो नहीं था….!

previous arrow
next arrow
Slider

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
smart-slider3