Breaking News

मेडिपर्सन एक्ट को गैर जमानती बनाने की प्रक्रिया आरम्भ–कौल

चिकित्सकों की मांगों पर सरकार गंभीरता से कर रही है विचार
मामला विधि विभाग को भेजाः कौल सिंह ठाकुर
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री कौल सिंह ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार चिकित्सकों की समस्याओं से भली-भांति परिचित है तथा उनके समाधान के लिए सदैव प्रयासरत रही है। उन्होंने कहा कि सरकार ने चिकित्सकों को हर स्तर पर बेहतर माहौल और सुविधाएं प्रदान की हैं, ताकि वे सम्मानपूर्वक तथा निर्भय होकर राज्य में अपनी सेवाएं दे सकें।
उन्होंने कहा कि सरकार चिकित्सकों की कार्यस्थल पर सुरक्षा को लेकर गंभीर है तथा उन्हें कार्यस्थल पर ऐसी पुख्ता व्यवस्था प्रदान की जाएगी, ताकि उनसे दुर्व्यवहार की कोई भी घटना न घट सके।
उन्होंने कहा कि सरकार ने प्रदेश भर में चिकित्सकों के साथ घट रही दुर्व्यवहार की घटनाओं का गंभीरता से संज्ञान लेते हुए मेडीपर्सन एक्ट में गैर जमानती प्रावधान बारे मामला विधि विभाग के परामर्श के लिए भेजा है। इसके साथ-साथ मंत्री ने कहा कि विधि विभाग के परामर्श के बाद यह अधिनियम विधानसभा में लाया जा सकेगा, ताकि प्रदेशभर के चिकित्सकों के साथ घट रही दुर्व्यवहार की घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सके।
 कौल सिंह ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार का चिकित्सकों के साथ हमेशा ही सौहार्दपूर्ण सम्बन्ध रहे हैं और उनकी जायज मांगों को हमेशा पूरा किया है। उन्होंने कहा कि विभिन्न अस्पतालों में चिकित्सकों पर काम के बोझ को कम करने के लिए चिकित्सकों के 550 पद और विशेषज्ञों के 60 पद भरने के साथ-साथ नर्सों की विभिन्न श्रेणियों के 600 से अधिक पद भरे गए हैं तथा 571 और पद भरे जा रहे हैं।
 कौल सिंह ठाकुर ने कहा कि चिकित्सक स्वास्थ्य विभाग की सबसे महत्वपूर्ण कड़ी है और सरकार भी उनके कल्याण के प्रति कृतसंकल्प है। उन्होंने कहा कि चिकित्सकों की मांगों और समस्याओं का मिल-बैठकर समाधान किया जाएगा और व्यवस्थाओं में सुधार किया जाएगा।
उन्होंने आशा व्यक्त की कि चिकित्सक ऐसा कोई कदम नहीं उठाएंगे, जिससे मरीजों को किसी प्रकार की असुविधा का सामना करना पडे़।
previous arrow
next arrow
Slider

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
smart-slider3