12वीं की टॉपर वाणी गौतम और क्षितिजा का सपना IAS और डॉक्टर बनकर समाज सेवा करना, सभी दे रहे बधाईयां

एप्पल न्यूज़, घुमारवीं बिलासपुर

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड धर्मशाला द्वारा 12वीं क्लास की लिखित परीक्षा परिणाम घोषित किया गया है जिसमें इस बार छात्राओं ने बाजी मारी है।

विज्ञान संकाय में हमीरपुर के क्षितिज शर्मा, कांगड़ा की शगुन राणा और बिलासपुर की अक्षिता शर्मा टॉप रहे है।

झंडूता उपमंडल के तहत गांव झरेरी की रहने वाली अक्षिता शर्मा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय बरठीं में पढ़ती है और अपनी लगन और मेहनत के दम पर अक्षिता ने 500 में से 493 अंकों सहित 98.6 प्रतिशत अंक हासिल किये हैं।

अक्षिता शर्मा की इच्छा है कि वह डॉक्टर बनकर लोगों की सेवा करे और पैसों की कमी के चलते जो मरीज अपना ईलाज नहीं करवा पाते है उनका निशुल्क ईलाज कर समाज की सेवा करे।

वहीं अक्षिता के पिता देशराज शर्मा ने अक्षिता की इस कामयाबी के लिए स्कूल के अध्यापकों का आभार जताया है। सरकारी स्कूलों को निजी स्कूलों से कम ना बताते हुए बच्चे को सही शिक्षा मिलने और सभी माता पिता को अपने बच्चों को आगे बढ़ने के लिए हमेशा प्रेरित करने की अपील की है।

कला संकाय में पूरे हिमाचल प्रदेश में जिला बिलासपुर के उपमड़ल घुमारवी के शहीद विजयपाल राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक कन्या विद्यालय घुमारवी की छात्रा वाणी गौतम ने प्रथम स्थान हासिल किया है।

बेटी गौतम ने इस सफलता का श्रेय अपने माता पिता व गुरुजनों को दिया है तथा भविष्य में समाजिक दायित्व का निर्वाहन करने के लिए प्रशासनिक अधिकारी बनना चाहती हैं।

उन्होंने ने कहा कि यह जरूरी नहीं कि हम पढ़ाई कितने घंटे करते हैं, पर यह जरूरी है कि जब हम पढ़ते हैं तो मन लगाकर पढ़ना चाहिए जिससे जो भविष्य के लिए जो बनना निर्धारित किया गया है उसे पाया जा सके ।

यह बेटी सात घंटे पढ़ाई करने के साथ पूरे प्रदेश में प्रथम स्थान हासिल किया है जो घुमारवी उपमड़ल के गांव सौग से सबंध रखती हैं।

बेटी की माता निजी स्कूल में अध्यापिका है और पिता पंचायत इंस्पेक्टर झंडूता मे अपनी सेवाएं दे रही हैं तथा एक छोटी बहिन है जो निजी स्कूल में पढ़ती है ।

मंत्री राजेंद्र गर्ग ने स्कूल पहुंचकर बेटी को आर्शीवाद दिया और उज्जवल भविष्य की कामना की है तथा स्कूल प्राधानाचार्य व स्टॉप को बधाई दी है।

Share from A4appleNews:

Next Post

फिल्म पटकथा को मिले साहित्य का दर्जा, साहित्य में सत्यांश होना आवश्यक- आर्लेकर

Sun Jun 19 , 2022
एप्पल न्यूज़, शिमला राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने कहा कि साहित्य का मूल स्वभाव प्रकाशन से जुड़ा है। सत्य पर आधारित जो विचार आपके मन में हैं वह प्रकाशित होकर समाज के सामने अभिव्यक्त होने चाहिए। राज्यपाल शिमला के ऐतिहासिक गेयटी थियेटर में अंतरराष्ट्रीय साहित्य उत्सव के समापन समारोह की […]

You May Like

Breaking News