बाबा रामदेव को मिला शांता कुमार का साथ, एक अकेले सन्यासी ने किया गांधी का सपना साकार, तुरंत वापस लें मामले

1

एप्पल न्यूज़, पालमपुर

पूर्व मुख्यमंत्री व भाजपा के वरिष्‍ठ नेता शान्‍ता कुमार ने  केन्‍द्रीय आयूष मंत्री श्रीपाद नायक को पत्र लिखकर इस बात पर दुख प्रकट किया है कि कुछ औपचारिकताओं को पूरा न करने के कारण और शब्‍द प्रयोग की गलती के कारण स्वामी रामदेव  को अपराधी के कटघरे में खड़ा कर दिया गया है। 

उन्होने कहा आज भी लाखों कोरोना रोगी केवल शरीर की प्रतिरोधक शक्ति के कारण ठीक हो रहे है।  इसी शक्ति की बढ़िया दवाई पंतजलि ने तैयार की थी।  उन्होने कहा कि शब्दों की इस प्रकार की गलती कई बार बड़े नेताओं से भी हुई हैं। 
शान्‍ता कुमार ने कहा कि महात्मा गांधी ने विदेशी माल की होली जलाई। स्वेदशी का सपना लिया।  गांधी जी चले गये। उसके बाद कई सरकारें आई और गई।  सपना साकार नहीं हुआ। विदेशी कम्पनियों की लूट बढ़ती गई। 

एक अकेले सन्यासी ने बिना सरकार की सहायता से गांधी के सपने को पूरा किया।  विदेशी कम्पनियों की लूट को बन्द करवाया। इतना ही नही पंतजलि उत्पाद विक्रय के द्वारा देश के लाखों बेरोजगारों को रोजगार दिया।

स्वामी रामदेव जैसे एक महापुरूष को अपराधी के कटघरे में खड़ा करना मेरे जैसे करोड़ों भारतीयों का अपमान है। उन्होने कहा वह जब यह सब याद करते है तो स्वामी रामदेव और आचार्य बालकृश्ण जी को नमन करते है।

उन्होने इस सम्बन्ध मे आयूष मंत्री से आग्रह किया है कि स्वामी रामदेव के विरूद्ध सभी अपराध के मामले तुरंत  सम्मानपूर्वक वापिस लिए जाएं। 

One thought on “बाबा रामदेव को मिला शांता कुमार का साथ, एक अकेले सन्यासी ने किया गांधी का सपना साकार, तुरंत वापस लें मामले

  1. Our country is a treasure of medicinal herbs. Since ages our sages have been using them for the benefit of humanity. We must encourage research and development in this important field. Our Medical Colleges can contribute a great deal by conducting trials of herbal products on patients on scientific lines. GOI should add an Ayurvedic wing to departments of medicine of every Medical College where doctors investigate usefulness or otherwise of various herbs in diseases and publish scientific papers in Indian & International medical journals. Students pursuing MD can be encouraged to select topics of herbal medicines for their projects/theses. That would be one effective method to take the benefit of herbs to ailing humanity. Jai Hind. Sarve Bhavantu Sukhina, Sarve Santu Niramaya.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

भारत में कोरोना मरीजों के ठीक होने की दर बढ़कर 59.43% हुई, स्वस्थ होने और सक्रिय मामलों का अंतर 1.30 लाख हुआ

Thu Jul 2 , 2020
एप्पल न्यूज़, दिल्ली कोविड-19 की रोकथाम और प्रबंधन के लिए राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों के साथ भारत सरकार द्वारा किए गए समन्वित प्रयासों के परिणामस्वरूप आज कोविड के सक्रिय मामलों की तुलना में उपचार के बाद ठीक होने वालों की संख्या 1,27,864  अधिक हो चुकी है । इसके परिणामस्वरूप रिकवरी दर बढ़कर 59.43 प्रतिशत पर […]

You May Like

Breaking News