अल्पसंख्यकों के लिए कल्याणकारी योजनाओं का हो प्रभावी क्रियान्वयन: अतिफ रशीद

एप्पल न्यूज़, कुल्लू

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के उपाध्यक्ष आतिफ रशीद ने शनिवार को जिला परिषद सभागार कुल्लू में जिला अधिकारियों के साथ प्रधानमंत्री के अल्पसंख्यकों के कल्याणार्थ 15 सूत्रीय कार्यक्रम की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने कहा कि सरकार ने अल्पसंख्यक समुदायों के सामाजिक-आर्थिक विकास के लिए अनेक योजनाएं लागू की हैं। इन योजनाओं का सहीं ढंग से कार्यान्वयन करना लाईन विभागों का दायित्व है। प्रत्येक पात्र व्यक्ति को योजना का समयबद्ध व उपयुक्त लाभ सुनिश्चित किया जाना चाहिए।


अल्पसंख्यकों के लिए प्रमाण पत्र जारी करने की प्रक्रिया सरल हो
आयोग के उपाध्यक्ष ने कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को प्रमाण पत्र प्रदान करने की प्रक्रिया में सरलीकरण किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कई बार इन लोगों की शिकायत रहती है कि प्रमाण पत्र उन्हें जारी नहीं किए जाते।  
बैठक में जानकारी दी गई कि कुल्लू जिला में वर्ष 2011 की जनगणना अनुसार अल्पसंख्यक समुदाय की कुल जनसंख्या 20,648 है, जो कुल जन संख्या का 4.71 प्रतिशत है। इनमें 15,377 बौद्ध, 2,974 मुस्लिम, 1,396 सिक्ख, 807 ईसाई तथा 94 जैन शामिल हैं।  
जिला में प्रधानमंत्री 15 सूत्रीय कार्यक्रम की उपलब्धियों पर चर्चा करते हुए जानकारी दी गइ्र कि अल्पसंख्यक वर्गों के बच्चों व महिलाओं को एकीकृत बाल विकास सेवाओं के तहत समुचित लाभ प्रदान किया जा रहा है। इसमें छः साल आयु के बच्चों को शालापूर्व शिक्षा, पूरक पोषाहार, टीकाकरण व संदर्भ सेवाएं प्रदान की जा रही हैं। अल्पसंख्यक समुदायों के बच्चे दूसरे बच्चों के साथ स्कूलों में शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।  
अल्पसंख्यक समुदायों के मेधावी विद्यार्थियों को पूर्व मैट्रिक व पोस्ट मैट्रिक छात्रवृतियां प्रदान की जा रही हैं। स्वयं रोजगार योजना के तहत एनएलआरएम, मनरेगा व एनयूएलएम में रोजगार प्रदान किया जा रहा है। तकनीकी शिक्षा के माध्यम से उन्नयन कार्यक्रम के तहत 219 युवाओं को कौशल विकास भत्ता व 77 को बेरोजगार भत्ता प्रदान किया जा रहा है।
बेगम हजरत महल छात्रवृति के तहत लाएं विद्यार्थियों को
अतिफ रशीद ने जिला के अल्पसंख्यक समुदायों के बच्चों को बेगम हजरत महल छात्रवृति योजना में शामिल करने को कहा। उन्होंने कहा कि 8वीं कक्षा में 50 प्रतिशत अंक इसके लिये पात्रता है। यह छात्रवृति 5000 व 6000 रुपये की दर से लडकियों के लिए प्रदान की जाती है। जिला में इसका पंजीकरण आरंभ करने पर उन्होंने बल दिया।  
     बैठक में अवगत करवाया गया कि आर्थिक क्रियाकलापों के लिए अभिवृद्धि सहायता के तहत वर्ष 2019-20 में सेऊबाग गांव के भाग सिंह को जनरल स्टोर के लिए साढ़े तीन लाख रुपये की राशि स्वीकृत की गई। इस वर्ष कुल पांच आवेदन स्वीकृति हेतु आएं हैं।
     ग्रामीण आवास योजना में वर्ष 2020-21 में अल्पसंख्यक समुदाय हेतु अलग से कोई भी लक्ष्य योजना के अन्तर्गत निर्धारित नहीं किया गया है । शहरी क्षेत्र में कुल 05 अल्पसंख्यक समुदाय से सम्बन्धित व्यक्तियों को  2020-21 में 1,65,000/-रू0 प्रति लाभार्थी राशि स्वीकृत की गई है। जिला में साम्प्रदायिक घटनाओं  बारे कोई भी मामला दर्ज नहीं है। साम्प्रदायिक घटनाओं की रोकथाम हेतु पुलिस विभाग द्वारा धार्मिक समुदाय के सदस्यांे के साथ नुक्कड़ बैठकों का आयोजन निरन्तर किया जा रहा है।
     उपायुक्त डाॅ. ऋचा वर्मा ने स्वागत करते हुए कहा कि जिला में अल्पसंख्यक समुदायों की जनसंख्या काफी कम है और 20 सूत्रीय कार्यक्रमों के तहत पात्र लोगों को सभी योजनाओं का समुचित लाभ प्रदान किया जा रहा है। बैठक की कार्यवाही का संचालन जिला कल्याण अधिकारी समीर चंद ने किया।
   बैठक में सभी विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।
                   .0.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने किया प्रेस क्लब के रक्तदान शिविर का शुभारंभ, 30 यूनिट रक्त किया एकत्र

Sun Nov 29 , 2020
एप्पल न्यूज़, शिमलाशहरी विकास, आवास, नगर नियोजन एवं संसदीय कार्य मंत्री सुरेश भारद्वाज ने रिज मैदान में प्रेस क्लब शिमला द्वारा आयोजित रक्तदान शिविर का शुभारंभ किया।उन्होंने बताया कि शिमला प्रेस क्लब के सदस्य एवं पत्रकार बंधु पत्रकारिता के साथ-साथ सामाजिक सरोकार की गतिविधियों में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेते आ […]

Breaking News