Creative 350x250 (2)
Creative 350x250 (1)
previous arrow
next arrow

“मीमांसा”- Children’s Literature Festival 2023 शिमला के गेयटी थिएटर में 17 से 19 मार्च तक, प्रदेश भर से छात्र-छात्राएं लेंगे भाग

IMG_20220803_180211
IMG-20220915-WA0002
IMG-20220921-WA0029
previous arrow
next arrow

एप्पल न्यूज़, शिमला

भाषा एवं संस्कृति विभाग प्रदेश की संस्कृति व साहित्य के संरक्षण व संवर्धन के लिए सदैव प्रयासरत है। इसी उद्देश्य से विभाग समय-समय पर अनेकों साहित्यिक व सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन करवाता है।

यह बात शिमला में भाषा एवं संस्कृति विभाग के निदेशक पंकज ललित ने कही. इसी कड़ी में विभाग 17 से 19 मार्च, 2023 तक तीन दिवसीय मीमांसा- ‘बाल साहित्य उत्सव का आयोजन गेपटी थियेटर में करवाने जा रहा है।

भाषा एवं संस्कृति विभाग किकली चैरिटेबल ट्रस्ट के सौजन्य से पेश करने जा रहा है मीमांसा — Children’s Literature Festival 2023। तीन दिवसीय मेगा लिटरेचर फेस्टिवल न केवल बाल साहित्य को पूरा करेगा, बल्कि स्कूल, कॉलेज और विभिन्न आयु समूहों के लिए लघु कहानी लेखन, शब्दावली कौशल और नारा लेखन / पोस्टर मेकिंग / बुक मार्क मेकिंग सहित विभिन्न इंटर-स्कूल प्रतियोगिताओं पर भी ध्यान केंद्रित करेगा। केवल 25 वर्ष से कम आयु के सभी स्कूल, कॉलेज और विश्वविद्यालय के छात्र ही भाग ले सकते है । बच्चे चाहे तोह ओपन केटेगरी मैं भी भाग ले सकते है।

निष्पक्ष दृष्टिकोण बनाए रखने के लिए डॉ उषा बंदे, प्रोफेसर और प्रिंसिपल मीनाक्षी फेथ पॉल और डॉ जयवंती डिमरी सहित कोर सदस्यों की एक टीम कीकली की वंदना भागड़ा की अध्यक्षता में गठन किया गया है।

इसका फेस्टिवल का मकसद बच्चों को एक खुला मंच प्रदान करना है, उन्हें बोलते हुए सुनना, संवादात्मक सत्रों में शामिल होना और साथ ही उन्हें पढ़ने को बढ़ावा देना है।

मीमांसा, बच्चों के लेखन को स्वर देने का एक प्रयास है, चाहे वह किताबों के रूप में हो, लघुकथा लेखन के रूप में हो या कविता के रूप में, सभी उनके द्वारा लिखे गए हों। यह हिमाचल के लोगों और आम जनता के लिए तीन दिवसीय साहित्यिक उत्सव होगा।

• इंटर स्कूल प्रतियोगिता के लिए सुबह का सत्र 9.30 बजे से 11.00 बजे तक होगा।
• सुबह 11.00 बजे से दोपहर 1.00 बजे तक और दोपहर 1.30 से 4.00 बजे तक दो सत्रों में ओपन माइक रीडिंग होगी जिसमें कविता, फ्लैश फिक्शन, सूक्ष्म कहानियां या लघु कथाएं और पुस्तक समीक्षा और चर्चा शामिल होगी।

25 वर्ष से कम आयु के बच्चे और युवा (केवल छात्र) भी हिमाचल के लेखकों द्वारा लिखी गई चयनित पुस्तकों की समीक्षा में भाग लेंगे और उन्हें अपनी समझ के प्रकाश में प्रस्तुत करेंगे। तीन दिनों के दौरान, नौ पुस्तकों की समीक्षा की जाएगी – 7 हिमाचल के लेखकों की और 2 राज्य से बाहर के लेखकों की।

लेखकों को उनकी पुस्तकें प्रस्तुत करने के लिए एक आमंत्रण भेजा जाएगा, जिसकी समीक्षा की जाएगी। कोर टीम द्वारा किए गए चयन के आधार पर, किताबें ट्रस्ट द्वारा खरीदी जाएंगी और उन बच्चों को दी जाएंगी जो पढ़ने में रुचि रखते हैं और कार्यक्रम का हिस्सा बनना चाहते हैं।

समीक्षा पैनल में प्रत्येक पुस्तक चर्चा के लिए छह सदस्य होंगे, चार युवा पाठक, एक मॉडरेटर और लेखक केंद्र स्तर पर होंगे। ओपन माइक पोएट्री और कहानी पढ़ने के सत्र में 100 से अधिक छात्रों को 3 दिनों की अवधि में अपनी रचना साझा करने का मौका मिलेगा।

3 दिन के उत्सव में लगभग 25 लेखक, अध्यापक और साहित्यकार अपना योगदान देकर आने वाली पीढ़ी को मार्गदर्शक प्रदान करेंगे। इस साहित्य उत्सव एवं प्रतियोगिताओं की सम्पूर्ण अवधि में किसी भी दिन किसी भी सदस्य की पुनरावृति नहीं की जायेगी।

आयोजन की संपूर्ण उपचारात्मक जिम्मेदारी कीकली चैरिटेबल ट्रस्ट की होगी। हम इस साहित्य महोत्सव में 350 से अधिक छात्रों की भागीदारी की उम्मीद करते हैं। व्यापक प्रसार के लिए और बड़ी संख्या में अपने छात्रों को भेजकर इस अवसर का अधिकतम लाभ उठाने के लिए स्कूल प्रबंधन को प्रोत्साहित करने के लिए भागीदारी फॉर्म साझा किया जा रहा है। इस तरह के आयोजन बच्चों को लेखन को एक कौशल के रूप में अपनाने और पढ़ने की आदत डालने के लिए प्रेरित करते हैं।

Share from A4appleNews:

Next Post

शिमला में मतगणना के लिए तैनात सुपरवाईजर, सहायक व माईक्रो ऑबजर्वर की प्रथम रेंडेमाइजेशन पूरी

Fri Dec 2 , 2022
एप्पल न्यूज़, शिमला जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी की अध्यक्षता में विधानसभा चुनाव 2022 के दृष्टिगत जिला शिमला के समस्त आठ विधानसभा क्षेत्रों में मतगणना प्रक्रिया के लिए तैनात मतगणना सुपरवाईजर, मतगणना सहायक तथा माईक्रो ऑबजर्वर की  प्रथम रेंडेमाइजेशन की गई । इस अवसर पर जिला निर्वाचन […]

You May Like

Breaking News