IMG_20220716_192620
IMG_20220716_192620
previous arrow
next arrow

वाह- हिमाचल पुलिस ITMS में देशभर में नंबर वन, कुल्लू में SP गौरव सिंह ने स्थापित किया था पहला ITMS – संजय कुंडू

कहा-लाहुल व कुल्लू के ट्रैफिक मैनेजमेंट को मिलेगी अतिरिक्त टास्क फोर्स 

 एप्पल न्यूज, कुल्लू

हिमाचल प्रदेश की पुलिस आज देशभर में नंबर एक पर है। इंटेलिजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट (आईटीएमएस) में हम सबसे आगे हैं। 

 यह बात हिमाचल प्रदेश पुलिस प्रमुख संजय कुंडू ने कुल्लू में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि अभी हिमाचल में 42 आईटीएमएस है जबकि इनको बढ़कर 150 किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि हम सौभाग्यशाली है कि  कुल्लू में तत्कालीन एसपी गौरव सिंह ने पहला आईटीएमएस स्थापित किया था और आज हम पूरे देश में नंबर वन पर है। 

उन्होंने बताया कि उन्होंने गाड़ा मोड़ा से मनाली फोरलेन सड़क मार्ग का निरीक्षण  किया और चंडीगढ़-मनाली फोरलेन सड़क मार्ग बनकर लगभग तैयार है और अब गाड़ा मोड़ा से मनाली का सफर मात्र तीन घन्टे का रह गया है।

सुंदरनगर,मंडी बाईपास बनने व मंडी की एक टनल बनने के बाद यह सफर और भी कम होगा। ऐसे में यहां पर्यटकों की संख्या बढ़ेगी और ट्रैफिक भी संभवता बढ़ेगा।

हिमाचल प्रदेश सरकार चाहती है कि हमारा ट्रैफिक सिस्टम चकाचक हो और फोरलेन पर दुर्घटनाएं कम हो। इसलिए बिलासपुर से लेकर मनाली तक तीन ट्रैफिक-टूरिस्ट पुलिस स्टेशनों  का निर्माण किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि यह ट्रैफिक-टूरिस्ट पुलिस जहां यातायात को सुचारू बनाएगी वहीं पर्यटकों को भी हर संभव मदद करेगी। उन्होंने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि फोरलेन में क्रेश बेरियर हर जगह लगे हुए हैं जिससे दुर्घटनाओं में कमी आएगी।

उन्होंने कहा कि कुल्लू से मंडी के बीच में अधिक दुर्घटनाएं इसलिए होती थी कि गाड़ियां सीधी खाई में गिर जाती थी,लेकिन अब टनलों व क्रेश बैरियरों के बनने से यह दुर्घटनाएं कम होगी।

उन्होंने कहा कि उन्होंने गाड़ा मोड़ा से मनाली तक सड़क का निरीक्षण किया है और जहां जो कमी है उसके बारे एनएचएआई को लिखा गया है कि इन कमियों को पूरा किया जाए।

उन्होंने कहा कि गाड़ामोड़ा से लेकर मनाली तक इस मार्ग में 9 टनले बनी है और यह सफर मात्र 189 किलोमीटर का रह गया है। इस मार्ग पर 9 टनले,33 बड़े पुल व 30 छोटे पुल बने हैं।

उन्होंने कहा कि फोरलेन व टनलों को आधुनिक सुविधाओं से लैस किया गया है। जिसमें पीटीजेड कैमरे,ओबर हेड ड्राइव फीडबैक सिस्टम,ऑटोमेटिक ट्रैफिक काउंटर,वैरिएबल मैसेज साइन,मेट डिवाइस,रडार स्पीड डिस्प्ले आदि शामिल है। 

डीजीपी संजय कुंडू ने कहा कि कुल्लू व लाहुल स्पीति पर्यटन हब बन चुका है और फोरलेन बनने के बाद यहां ट्रैफिक और बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि रोहतांग टनल बनने के बाद लाहुल में भी ट्रैफिक व पर्यटक बढ़े हैं।

उन्होंने कहा कि एक वर्ष में लाहुल में 12 लाख 74 हजार पर्यटक आए हैं और अगले वर्ष यह संख्या बढ़कर 30 लाख हो जाएगी। उन्होंने कहा कि ट्रैफिक को सुचारू रखने के लिए कुल्लू व लाहुल को एक्स्ट्रा ट्रैफिक टास्क फोर्स भेजने का निर्णय लिया गया है।

Share from A4appleNews:

Next Post

घाटे से उभारने के लिए HRTC "टैक्स" से कमायेगा 850 करोड़, "दलालों" पर कसेगी नकेल, 15 साल पुरानी गाड़ियों के लिए आएगी "स्क्रैप पॉलिसी"- अग्निहोत्री

Fri May 26 , 2023
सड़क सुरक्षा के लिए रोड़ सफ्टी पार्क बनाने की योजना, एप्पल न्यूज़, शिमला 1350 करोड़ के घाटे के तले दबे हिमाचल प्रदेश पथ परिवहन निगम को उभारने के लिए उपमुख्यमंत्री ने कई कदम उठाने की बात कही है। एचआरटीसी को घाटे से उबारने के लिए इस बार टैक्स को 675 […]

You May Like