IMG-20220807-WA0013
IMG-20220807-WA0014
ADVT.
IMG-20220814-WA0007
IMG_20220815_082130
previous arrow
next arrow

खरीफ की फसल का बीमा करवाने की अंतिम तिथि 15 जुलाई- डॉ प्राची

IMG_20220803_180317
IMG_20220803_180211
SJVN-final-Adv.15.08.22
previous arrow
next arrow

एप्पल न्यूज़, बिलासपुर

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना खरीफ 2022 के अंतर्गत मक्का व धान की फसल का बीमा करवाने की अंतिम तिथि 15 जुलाई  2022 को समाप्त हो रही है। यह जानकारी कृषि उपनिदेशक बिलासपुर डा. प्राची ने दी।

उन्होने बताया कि मक्का व धान फसल की कुल बीमित राशि 30 हजार रूपये प्रति हैक्टेयर  है। मक्का का प्रीमियम 10 प्रतिशत, कुल राशि  3 हजार प्रति हैक्टेयर व धान का प्रीमियम 5 प्रतिशत, कुल राशि  15 सौ प्रति हैक्टेयर निर्धारित की गई है। जिसमें किसान द्वारा 2  प्रतिशत,  6 सौ रूपये प्रति हैक्टेयर 48 रू0 प्रति बीघा होगी तथा शेष राशि की भरपाई अनुदान के रूप में सरकार द्वारा की जाएगी।
उन्होने बताया कि बिलासपुर जिले के लिए फसल बीमा योजना के के लिए दी एग्रीकल्चर इन्सुरेंस कंपनी को अधिकृत किया गया है।  
 उन्होंने गैर ऋणी किसानों से अनुरोध किया कि वह पटवारी द्वारा सत्यापित अपने राजस्व पत्रो व फसल बिजाई प्रमाणपत्र को अपने नजदीकी लोकमित्र केन्द्र पर जा कर निर्धारित समय अवधि के अंदर अपनी मक्का व धान की फसल का बीमा  करवा लें ताकि मौसम की प्रतिकूल परिस्थितियों से होने वाले नुक्सान की भरपाई हो सके।
 इस योजना के अंर्तगत, मक्का व धान फसल के जोखिम जिनके कारण फसल का नुकसान होता है, की भरपाई की जाएगी ।
इस योजना के अंर्तगत बीमाकृत क्षेत्र में कम वर्षा अथवा प्रतिकूल मौसमी दशाओं के कारण बुआई/रोपण क्रिया न होने एवं होने वाली हानि खड़ी फसल (बुआई से लेकर कटाई तक) गैर बाधित जोखिमों तथा सुखे, लंबी शुष्क कृमि व रोग, बाढ़, जल भराव से सुरक्षा प्रदान होगी।

उन्होने बताया कि फसल कटाई के उपरांत होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए फसलों को काटे जाने से अधिकतम दो सप्ताह के लिए चक्रवात और चक्रवातीय वर्षा एवं गैर मौसमी वर्षा के मामले में बीमा कवर प्रदान किया जाता है। इसके अतिरिक्त अधिसूचित क्षेत्र में पृथक कृषि-भूमि को प्रभावित करने वाली ओला वृष्टि, भू-स्खलन और जलभराव के अभिचिन्हित स्थानीयकृत जोखिमों से होने वाले नुकसान एवं क्षति में भी बीमा कवर प्रदान किया जाता है।
उन्होने जिला के किसानों से आग्रह किया कि वे मक्का व धान की फसल का बीमा करवाने के लिए हल्का पटवारी से अपनी जमीन की जमाबन्दी नक्ल व फसल प्रमाण पत्र जारी करने के उपरान्त इसे नजदीकी लोकमिंत्र केन्द्र में ले जाकर निर्धारित प्रपत्र भरकर जमा करवाएं तथा प्रीमियम की रसीद भी प्राप्त कर लें।
उन्होंने बीमा कंपनी के प्रतिनिधियों से आग्रह किया है कि वह कृषि विभाग तथा अन्य विभागों द्वारा लगाए गए प्रशिक्षण शिविरों में जाकर किसानों को फसल बीमा योजना के बारें में जागरूक करें और किसानों की फसलों को बीमा के अंर्तगत लाने में सहायता प्रदान करें।

उन्होनें किसानों से आग्रह किया कि फसल बीमा योजना से सम्बन्धित जानकारी एवं शंका समाधान कें लिए एग्रीकल्चर इन्सुरेंस कंपनी बिलासपुर के जिला  प्रबंधक मो0न0 9857075081 से सम्पर्क कर सकते हैं।  

Share from A4appleNews:

Next Post

SJVN के CMD नन्‍द लाल शर्मा ने किन्नौर में कम्‍युनिटी एसेट्स का किया उद्घाटन

Sat Jun 18 , 2022
एप्पल न्यूज़, शिमला नन्‍द लाल शर्मा, अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, एसजेवीएन ने आज हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले के सांगला में सामुदायिक भवन, वर्षा शालिका और मौजूदा श्री बेरिंग नाग देवता मंदिर परिसर के विस्तार का उद्घाटन किया। ये कम्‍युनिटी एसेट्स एसजेवीएन ने अपनी कारपोरेट सामाजिक उत्‍तरदायित्‍व (सीएसआर) गतिविधियों के […]

You May Like

Breaking News