मुकेश बोले- विपक्ष के जवाब देने व चर्चा के लिए अभी से तैयारी कर ले सरकार, माफिया के कहने पर बदले जा रहे हैं SP

एप्पल न्यूज़, ऊना

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा विधानसभा सत्र में सरकार विपक्ष के जवाब देने व चर्चा के लिए अभी से तैयारी कर लें। क्योंकि जनता से जुड़े मुद्दों पर यदि जवाब न मिला, तो विपक्ष हंगामा करने से पीछे नहीं हटेगा। मुकेश रविवार को अपने गृह विधानसभा क्षेत्र हरोली कांग्रेस की नवगठित टीम की पहली बैठक को संबोधित कर रहे थे। कांगड़ा के अंबेडकर भवन में आयोजित बैठक की अध्यक्षता ब्लॉक अध्यक्ष विनोद बिट्टू ने की, जबकि जिला अध्यक्ष राणा रंजीत सिंह उपस्थित रहे।

\"\"

मुकेश ने कहा कि विधानसभा में बिजली महंगी, राशन महंगा, बस किराया बढऩा, पेट्रोल डीजल के बढ़ते दाम व माफिया मुख्य मुद्दे रहेंगे। जिन पर विधानसभा के अंदर आवाज उठाई जाएगी। उन्होंने कहा कि यदि विधानसभा में भाजपा सरकार ने जनता हित के मुद्दो पर जवाब सही न दिए, तो कांग्रेस विधायक दल आक्रमकता के साथ पेश आएगा। उन्होंने कहा कि हमारे लिए जनहित पहले है और जनता की आवाज को उठाना हमारा धर्म है।

उन्होंने कहा कि कोरोना संकट के बीच सरकार आम जनता को राहत तो नहीं दे पाई, लेकिन जतना की जेब पर डाका डालने का काम जरूर किया है। उन्होंने कहा कि लोग बिजली का बिल माफ होने की बात कर रहे थे, स्कूल फीस पर राहत की बात हो रही थी, लेकिन सरकार ने राहत देने के स्थान पर आफत जरूर लाद दी है। उन्होंने कहा कि एक तरफ कोरोना संकट में जनता को राहत नहीं दी गई।

वहीं दूसरी ओर सरकार निगमों और बोर्डों में अध्यक्ष और उपाध्यक्षों की तैनातियों कर जनता व खजाने पर बोझ डाल रही है। उन्होंने कहा कि आखिर ऐसे समय में नियुक्तियों की जरूरत क्या है।  उन्होंने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में जहां प्रदेश की जनता कोरोना से बेहाल है, ऐसे में सरकार को अपने खर्च कम करने के लिए पहले से नियुक्त किए गए अध्यक्ष और उपाध्यक्ष को नैतिकता के आधार पर हटा देना चाहिए था।

एक तरफ  सरकार कर्ज पर कर्ज लेकर प्रदेश को चलाने की बात कर रही है। दूसरी ओर कर्ज के उस पैसे से अपने नेताओं को अंधाधुंध नियुक्तियां देकर ऐश करवाई जा रही है। सरकार द्वारा अपने चहेतों को दी जा रही ऐसी नियुक्तियां बुरे समय से जूझ रही जनता के साथ भद्दा मजाक है। ये सरकारी पैसे पर नेताओं को एश करवाने जैसा है।

वहीं मुकेश ने भाजपा नेताओं द्वारा मिशन रिपीट के दावों को कोरी हवा करार देते हुए कहा कि 2022 में प्रदेश की जयराम सरकार का मूल्यांकन खुद व खुद हो जाएगा। जिसमें भाजपा का मिशन रिपीट सफल होने का सवाल ही पैदा नहीं होता। शनिवार रात्रि हुए आईपीएस अधिकारियों के तबादले पर मुकेश ने तंज कसा है। मुकेश ने कहा कि माफिया प्रदेश में इतना हावी हो गया है कि अब उसके कहने पर एसपी बदले जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि क्या पुलिस अधिकारियों को नौकरी करने के लिए माफिया के तलवे चाटने होंगे। उन्होंने कहा कि जयराम का जिलों में कितना संवाद है, ये तो पता नहीं, लेकिन क्या माफिया अपने मन माफिक आदेश सीएम से करवा रहा है। उन्होंने कहा कि जिला ऊना में अढ़ाई वर्ष में चौथा एसपी बदल दिया। उन्होंने कहा कि एसपी ऊना ने भुक्की व खनन के मामले में अच्छा काम किया है।

Share from A4appleNews:

Next Post

कुल्लू जिला में कुछ इस तरह बनेंगी नई पंचायतें, अधिसूचना जारी

Mon Aug 24 , 2020
एप्पल न्यूज़, शिमला

Breaking News