एप्पल न्यूज़, शिमलाराज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने साहित्यकार, समाजसेवी और सूचना एवं जन संपर्क विभाग से सेवानिवृत्त अधिकारी शिव सिंह चैहान द्वारा लिखित पुस्तक- हिमाचल प्रदेश के पांच सपूत का विमोचन किया। यह पुस्तक हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों के राज्य के विकास में योगदान पर केंद्रित है। राज्यपाल ने लेखन […]

Share from A4appleNews:

एप्पल न्यूज़, ब्यूरो—- जीवन के बहुरंगों को उल्लास और उमंगों को थके मनुष्य के नस-नस भरने  लो फिर आई होलीदुख गुलाल संग उड़ा देने को कलुष मिठास में पगा देने को सुप्त संबंधों को जागृत करने लो फिर आई होलीअतीतकंटक भी गले लगाने को  सूखे पुष्पदल पुनः महकाने को मृत […]

Share from A4appleNews:

एप्पल न्यूज़, ब्यूरो राजभाषा विभाग, गृह मंत्रालय द्वारा हिंदी में मौलिक पुस्तक लेखन के लिए चलाई जा रही निम्नलिखित पुरस्कार योजनाओं के लिए 01.01.2020 से 31.12.2020 के दौरान प्रकाशित पुस्तकें आमंत्रित हैं।  इस योजना में दो वर्गों में पुरस्‍कार दिए जाते हैं। 1. केन्द्र सरकार के कार्मिकों (सेवानिवृत्त सहित) के लिए हिंदी में मौलिक पुस्तक लेखन हेतु राजभाषा गौरव पुरस्कार जिनकी पात्रता/शर्ते  निम्‍न हैं: (I) पुस्तक के लेखक केन्द्र सरकार के मंत्रालयों/विभागों/उनके सम्बद्ध/अधीनस्थ कार्यालयों, केन्द्र सरकार के उपक्रमों, राष्ट्रीयकृत बैंकों/वित्तीय संस्थानों तथा केन्द्र सरकार के स्वामित्व में या नियंत्रणाधीन स्वायत संस्थाओं/केंद्रीय विश्वविद्यालयों/प्रशिक्षण संस्थानों के सेवारत/सेवानिवृत्त अधिकारी/कर्मचारी हों। (II) सेवारत लेखक अपनी प्रविष्टि अपने विभाग के अध्यक्ष द्वारा सत्यापन एवं संस्तुति तथा सेवानिवृत्त लेखक अपनी प्रविष्टि पीपीओ की प्रति के साथ इस विभाग को सीधे भेजें। 2. भारत के नागरिकों के लिए हिंदी में ज्ञान-विज्ञान मौलिक पुस्तक लेखन हेतु राजभाषा गौरव पुरस्कार पुस्तक इंजीनियरी, इलेक्ट्रिनिक्स, कंप्यूटर विज्ञान, भौतिकी, जैव विज्ञान, ऊर्जा, अंतरिक्ष विज्ञान, आयुर्विज्ञान, रसायन विज्ञान, सूचना प्रौद्योगिकी, प्रबंधन, मनोविज्ञान आदि तथा समसामयिक विषय जैसे उदारीकरण, भूमंडलीकरण, उपभोक्तावाद, मानवाधिकार, प्रदूषण नियंत्रण आदि।आधुनिक तकनीकी/विज्ञान की किसी विधा अथवा समसामयिक विषय पर लिखी हो सकती है। भारत का कोई भी नागरिक इस पुरस्कार योजना में भाग ले सकता है। उपर्युक्त योजनाओं के संबंध में प्रपत्र तथा पूरा विवरण विभाग की वेबसाइट http://rajbhasha.gov.in पर उपलब्ध है। पुस्तकें भेजने की अंतिम तिथि 01.05.2021 है।

Share from A4appleNews:

एप्पल न्यूज़ एक पीढ़ी को दूसरी पीढ़ी से जोड़ने का जरिया होते साहित्य की अभिवृद्धि के लिए निरंतर प्रयासरत हैं -एक पिता, दो पुत्र व एक सुपौत्री का लेखन-प्रवाह। मूलतःआगरा शहर की पृष्ठभूमि से जुड़े कवि अनिल कुमार शर्मा उनके दो सपुत्र दुष्यंत शर्मा व सिडनी- आस्ट्रेलिया निवासी जयंत शर्मा […]

Share from A4appleNews:
1

व्हाट्सएप के सौजन्य से जैसा प्राप्त हुआ प्रेषित….. एप्पल न्यूज़, ब्यूरो \”1961 में मेरे पिताजी PWD में चतुर्थ श्रेणी के तकनीकी पद पर नोहर (राजस्थान) में पोस्टेड थे। उस समय तक मेरा जन्म नहीं हुआ था। एक दिन उनके अधिशासी अभियंता ने उनको कहा कि कल सालासर टूर पर चलना […]

Share from A4appleNews:

सांझ हुई ———— एप्पल न्यूज़, ब्यूरो फैल रही लाली नदी तट रेत में  डूब रहा सूर्य सागर के पेट में  सांझ हुईपर्वत के भाल पर क्षितिज के गाल पर पसरती लालिमा जंगल के बाल परथक कर चूर दिन लोटपोट खेत में फैल रही लाली नदी तट रेत में सांझ हुईहर तरफ शोर […]

Share from A4appleNews:
1

एप्पल न्यूज़, शिमला कोरोना काल में भाषा एवं संस्कृति विभाग की किसी भी प्रकार की गतिविधियां खुले में तथा सामूहिक तौर पर नहीं हो पा रही है। सामाजिक दूरी को बनाए रखने के लिए विभाग ने निर्णय लिया कि सभी साहित्यिक, सांस्कृतिक,जयन्तियाॅ तथा दिवस कार्यक्रम आॅनलाईन आयोजित किये जाए। विभाग […]

Share from A4appleNews:

एप्पल न्यूज़, शिमला हिन्दी व अँग्रेज़ी के चर्चित लेखक, कवि, कथाकार एवं समीक्षक, डॉ. कुँवर दिनेश सिंह की हिन्दी कहानियों का संग्रह, “जब तक ज़िंदा हैं” प्रकाशित होकर आया है। इस संग्रह में कुल दस कहानियाँ हैं जो भारतीय समाज के विविध पहलुओं को उजागर करतीं हैं। इन कहानियों में […]

Share from A4appleNews:

एप्पल न्यूज़, शिमलाराज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने राजभवन में भारत ज्ञान विज्ञान समिति की हिमाचल इकाई द्वारा कोरोना महामारी के दृष्टिगत तैयार की गई ‘‘सज़ा नहीं, बचाव है क्वारंटाइन’’ पुस्तिका का विमाचन किया। इस पुस्तक का लेखन व संकलन डाॅ. ओम प्रकाश भूरेटा द्वारा किया गया है। इस पुस्तक में दी […]

Share from A4appleNews:

(करोना से लड़ रहे डाक्टरों एवं सहायकों पर हेलिकोपटर से की गई फूल वर्षा के संदर्भ में)‘मौन’आकाश सेनीचे गिर रहींफूलों की रंग बिरंगी पंखुडियाँलग रहीं थीं कुछपरेशान सी। शायदयेसोच रहीं थींकिजो नीचे ज़मीन परहैं खड़े योद्धालड़ रहे करोना से,क्याये लड़ पाएँगेबिना सुरक्षा वस्त्रोंबिना ‘फ़ेस मास्क’बिना वेंटिलेटरबिना सहायकोंबग़ैर सामाजिकआर्थिक सुरक्षा के,क्याइन्हें […]

Share from A4appleNews:

Breaking News