10 को खुलेंगे श्री नैनादेवी मंदिर के कपाट, न्यास ने की तैयारियां पूरी- श्रद्धालु बेसब्री से कर रहे इंतजार

एप्पल न्यूज़, सुरेन्द्र जम्वाल बिलासपुर

04 सितम्बर को हिमाचल प्रदेश की जयराम सरकार की कैबिनेट बैठक में जहां कईं अहम फैसले लिए गए थे तो वहीं पिछले 06 महीनों से बंद पड़े धार्मिक स्थलों के कपाट खोले जाने पर भी निर्णय लिया गया जिसके चलते आगामी 10 सितम्बर से धार्मिक स्थलों के द्वार श्रद्धालुओं के लिए खोले जाएंगे जिसमे प्रदेश का भाषा एवं संस्कृति विभाग एसओपी तो जारी करेगा ही साथ ही स्टैण्डर्ड प्रोग्राम भी तैयार करेगा ताकि मंदिर परिसर में पहुंचने वाले श्रद्धालुओं को कोरोना की पकड़ से दूर रखा जा सके।

वहीं सरकार के इस फैसले से बिलासपुर स्थित विश्वविख्यात शक्तिपीठ श्री नैनादेवी मंदिर के पुजारी सहित स्थानीय दुकानदार व होटल संचालक काफी खुश नजर आ रहे है और इस फैसले का स्वागत करते दिखाई दे रहे है. वहीं 10 सितम्बर को मंदिर के कपाट खुलने से पहले ही मंदिर न्यास ने अपनी तैयारियां पूरी कर ली है और मंदिर परिसर को वन वे कर सोशल डिस्टेंसिंग के तो प्रबंध किए गए है साथ ही हैंड सेनेटाइसर का पूरा प्रबन्ध किया गया है।

गौरतलब है कि शक्तिपीठ श्री नैनादेवी मंदिर के कपाट खुलने के बाद श्रद्धालुओं के बीच सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे इसके लिए मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं के खड़े होने के लिए गोले लगाए गए है तो साथ जगह-जगह बिना स्पर्श के हैंड सेनेटाइसर स्टैंड भी रखे गए है।

वहीं स्थानीय दुकानदारों व मंदिर के पुजारियों ने सरकार के इस निर्णय का स्वागत करते हुए श्रद्धालुओं के मंदिर आने पर एक बार जिंदगी के पटरी पर लौटने की उम्मीद जताई है. वहीं मंदिर परिसर में तैनात सुरक्षाकर्मियों ने भी श्रद्धालुओं की सुरक्षा के खास इंतेजाम किये जाने की बात कही है.।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

विधानसभा के बाहर कांग्रेस का धरना, कार्यकर्ताओं व पुलिस के बीच धक्का मुक्की, उड़ाई सोशल डिस्टेंसिग की धज्जियां

Tue Sep 8 , 2020
एप्पल न्यूज़, शिमला कांग्रेस ने मंगलवार को चौड़ा मैदान में प्रदेश सरकार के खिलाफ जबरदस्त हल्ला बोलते हुए सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार,बढ़ती बेरोजगारी व महंगाई के विरुद्ध प्रदर्शन करते हुए भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों की डटकर आलोचना की।इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओ और पुलिस के बीच धक्का मुक्की भी हुई और सोशल डिस्टेंसिंग […]