NUJI हिमाचल ने राज्यपाल को सौंपा मांग पत्र, राज्यपाल बोले-पत्रकारों ने भी निभाई “कोरोना योद्धाओं” के रूप में अपनी जिम्मेदारी

17

एप्पल न्यूज़, शिमला
नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट, हिमाचल चैप्टर के एक प्रतिनिधिमंडल ने प्रदेश अध्यक्ष रणेश राणा और राष्ट्रीय सचिव सीमा मोहन के नेतृत्व में शिमला स्थित राजभवन में राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय से भेंट की।
उन्होंने राज्यपाल के साथ विशेष रूप से कोविड के दौरान पत्रकारों के समक्ष आ रहीं विभिन्न समस्याओं और चुनौतियों पर चर्चा की और संघ द्वारा पत्रकारों के कल्याण के लिए की जा रही पहल से अवगत करवाया।


राज्यपाल ने कहा कि कोरोना महामारी के इस दौर में पत्रकारों ने भी कोरोना योद्धाओं के रूप में विभिन्न जागरूकता अभियानों में सक्रिय रूप से भाग लिया है। आज पूरी दुनिया इस महामारी से जूझ रही है और हर व्यक्ति को अपनी जिम्मेदारी को समझना चाहिए। उन्होंने कहा कि पत्रकारों पर समाज को जागरूक करने की अधिक जिम्मेदारी है।

उन्होंने पत्रकारों से आग्रह किया है कि वे सामाजिक दायित्व के तहत लोगों को जागरुक करने का कार्य करें। अपने अखबारों, चैनलों व वेब मीडिया के माध्यम से लोगों को सही संदेश पहुंचाएं और सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देशों से आम जनमानस को अवगत करवाकर इस महामारी से निजात पाने के लिए सहयोग करें। उन्होंने कहा कि मास्क पहनने, उचित दूरी और स्वच्छता से संबंधित सन्देश जागरूकता कार्यक्रमों के माध्यम से फैलाएं।

उन्होंने कहा कि कोरोना की पहली लहर में ज्यादातर शहरी क्षेत्र प्रभावित हुए जबकि इस बार विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों में इसका प्रकोप देखने को मिल रहा है इसलिए ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक जागरूकता पैदा की जानी चाहिए।
उन्होंने कहा कि कोविड-19 की दूसरी लहर में मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। लोगों को सार्वजनिक स्थानों पर जाने से बचना चाहिए। लोगो को सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए और दवाई भी, कड़ाई भी संकल्प के साथ खुद का और दूसरों का बचाव करना चाहिए।

लोगों को टीकाकरण के बाद भी लापरवाही नही करनी चाहिए और कोरोना वायरस संबंधी मानदंडों का कड़ाई से पालन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने कहा है कि अब 2021 के लिए हमारा मंत्र होना चाहिए दवाई भी, कड़ाई भी और हमें इसका सख्ती से पालन करना चाहिए।
प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल को एक मांग पत्र भी प्रस्तुत किया और उनसे सरकार द्वारा पत्रकारों को सुविधाएं प्रदान करने में हस्तक्षेप करने का आग्रह किया।

नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट हिमाचल ईकाई द्वारा राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय को सौंपे गए ज्ञापन की प्रति—

सेवा में
श्रीमान बंडारू दत्तात्रेय जीमहामहिम राज्यपालहिमाचल प्रदेश।
विषयः- पत्रकार हित एवं कल्याण में विभिन्न मांगों को लेकर ज्ञापन
माननीय महोदय,
   हिमाचल प्रदेश में प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और वेब न्यूज़ पोर्टल्स के पत्रकार पिछले लंबे समय से पूरी निष्ठा, तन्मयता, ईमानदारी और कर्मठता से समाज और सरकार के बीच एक कड़ी के रूप में कार्य कर रहे हैं। नवीन तकनीकों के साथ सरकार व समाज की हर गतिविधि और योजना के प्रचार प्रसार में भी पूर्ण सहयोग कर रहे हैं। साथ ही समाज के हर वर्ग की समस्याओं और उसके समाधान से भी प्रशासन को अवगत करवाने में अपना महत्ती योगदान दे रहे हैं। महोदय, कोरोना जैसी महामारी में भी पत्रकारों ने अडिग रहकर अपने पत्रकारिता धर्म का पालन किया। कई पत्रकार कोरोना पॉजिटिव हो गए और कई ने अपने प्रांण भी गवां दिए लेकिन आज तक इन फ्रंटलाइन वर्कर्स को “कोरोना वॉरियर” तक घोषित नहीं किया गया। जबकि पुर्र कोरोना काल में मीडियाकर्मियों ने हर सूचना को तुरंत आमजनमानस और प्रशासन तक पहुंचाया है।हम आपसे विनम्र आग्रह करते है कि पत्रकारों की निम्नलिखित मांगों और सुझावों पर सरकार का ध्यानाकर्षण करने की कृपा करें। 
1. पंजाब हरियाणा व अन्य राज्यों की तर्ज पर 60 वर्ष से ऊपर आयु वर्ग के पत्रकारों  को सेवानिवृत कर उचित सम्मान राशि (बतौर पेंशन) प्रदान की जाए, जो वर्षों से सक्रिय पत्रकारिता में रहे हो। 
2. हिमाचल प्रदेश पत्रकार कल्याण बोर्ड का गठन किया जाए। ताकि बोर्ड के माध्यम से पत्रकारों के हितों का संरक्षण हो सके।
3. पत्रकारिता के बदलते युग में चिरलंबित “वेब न्यूज़ पोर्टल” के लिए प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की तर्ज पर मीडिया पॉलिसी बनाई जाए। 
4. फर्जी पत्रकारों के कारण बदनामी झेल रहे निष्ठावान पत्रकारों के लिए पंजीकरण ( रजिस्टर फ़ॉर जर्नलिस्टस) का प्रावधान किया जाए। ताकि केवल योग्यता रखने वाले रजिस्टर्ड पत्रकारों को ही पत्रकारिता की अनुमति हो।
5. प्रदेश मुख्यालय, ज़िला मुख्यालय व उपमंडल स्तर पर जरूरतमंद पत्रकारों के लिए आवास उपलब्ध करवाए जाएं। इसके लिए पत्रकार सोसाइटी का गठन कर इस के तहत भूमि उपलब्ध करवाई जाए। 
6. प्रदेश भर के सभी एक्टिव पत्रकारों को मान्यता (एक्रीडेशन/ रिकॉग्निशन) प्रदान की जाए। जिससे उन्हें कार्य निष्पादन में आसानी हो।
7. हिमाचल पथ परिवहन निगम HRTC की बसों में सभी एक्टिव पत्रकारों एक्रिडीएटिड और नॉन एक्रीडिएटिड को संस्थान के पहचान पत्र पर निशुल्क यात्रा सुविधा प्रदान की जाए। 
8. पर्यटन निगम की शिमला स्थित लिफ्ट में संस्थान के पहचान पत्र पर निशुल्क आवाजाही की सुविधा प्रदान की जाए।
9. सरकार की घोषणा के अनुरूप उप मंडल स्तर के पत्रकारों को भी जल्द से जल्द लैपटॉप वितरण किया जाए। 
10. सभी एक्टिव पत्रकारों को एक मुश्त स्वास्थ्य और जीवन बीमा सुविधा योजना के तहत लाया जाए। 
11. हिमाचल भवन दिल्ली और चंडीगढ़ में पत्रकारों के साथ भेदभाव न किया जाए। प्राथमिकता के साथ कमरे उपलब्ध करवाए जाएं।

धन्यवाद सहित।

सीमा मोहन, राष्ट्रीय सचिव (NUJI)

रणेश राणा, प्रदेश अध्यक्ष

किशोर ठाकुर, महासचिव, सुमित, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य, प्रीति मुकुल, अध्यक्ष महिला विंग, मीना कौंडल, महासचिव महिला विंग, जग मोहन शर्मा व गोपाल दत्त, प्रदेश उपाध्यक्ष, मोहन चौहान, जिला शिमला अध्यक्ष, वीरेंद्र खागटा, जिला शिमला महासचिव, दिनेश अग्रवाल, उप सचिव।

Share from A4appleNews:

Next Post

नौणी विवि में उच्च घनत्व सेब के बगीचे का उद्घाटन, छात्रों और किसानों को मिलेगा लाभ

Wed Apr 21 , 2021
एप्पल न्यूज़, सोलन डॉ वाईएस परमार औदयानिकी एवं वानिकी विश्वविद्यालय, नौणी में आईसीएआर के नेशनल एग्रीकल्चरल हायर एजुकेशन प्रोजेक्ट के तहत लगाया गया एक नया उच्च घनत्व सेब के बागीचे का उद्घाटन किया गया। विश्वविद्यालय के फल विज्ञान विभाग द्वारा लगाए गए इस बागीचे का उद्घाटन विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ […]

Breaking News