Creative 350x250 (2)
Creative 350x250 (1)
previous arrow
next arrow

हिमाचल में बार-बार चोरी करने वाले 461 अभियुक्तों की पहचान, शिमला में सर्वाधिक 110

IMG_20220803_180211
IMG-20220915-WA0002
IMG-20220921-WA0029
previous arrow
next arrow

एप्पल न्यूज़, शिमला

प्रदेश में बार-बार चोरी की घटनाओं में संलिप्त अपराधियों का पता लगाने व उनकी शिनाख्त करने के लिये हिमाचल पुलिस द्वारा पिछले दस वर्षों के अपराधिक रिकार्ड का विष्लेशण किया गया है।

विष्लेशण से 461 ऐसे अपराधियों का पता लगाया गया है जो चोरी व गृह भेदन के अपराधों में एक से अधिक बार संलिप्त रहे थे।

इन 461 अपराधियों में सबसे अधिक जिला शिमला में 110, सोलन में 79, बददी में 72, सिरमौर में 59, कांगडा में 38, मण्डी में 33, बिलासपुर में-26, ऊना में 19, जिला चम्बा में- 11, किन्नौर में-11 व लाहैल एवं स्पिति में-3 बार-बार चोरी करने वाले अपराधियों की पहचान की गई है।
अपराधिक रिकार्ड से यह भी पाया गया है कि उपरोक्त 461अपराधियों में से 58 ऐसे अपराधी भी है जो पांच व पांच से ज्यादा चोरी की घटनाओं में संलिप्त रहे थे।

इन 58 अपराधियों में से 41 अपराधी हिमाचल प्रदेश के निवासी है। 17 अन्य राज्यों हरियाणा-5, बिहार-1, उत्तर प्रदेश-3, दिल्ली व पंजाब के 04-04 अपराधी है।
पुलिस विभाग द्वारा उपरोक्त अपराधियों की गतिविधियों पर कडी निगरानी रखी जा रही है तथा वर्तमान में जो अपराधी जमानत पर है।

उन की जमानत का रदद करवाने के लिये सम्बन्धित न्यायालयों से अनुरोध किया जा रहा है ताकि वे पुनः चारी की वारदात को अन्जाम न दे सके।

इस के अतिरिक्त ऐसे भारतीय दण्ड संहिता की धारा 75 के प्रावधानों के अनुसार ऐसे अपराधियों को वर्धित दण्ड देने की संस्तुति भी की जायेगी।

Share from A4appleNews:

Next Post

मंत्रालय ने टेलीविजन और डिजिटल मीडिया पर दिखाए जाने वाले सट्टेबाजी के विज्ञापनों के खिलाफ की एडवाइजरी जारी

Tue Oct 4 , 2022
एप्पल न्यूज़, शिमलाउपभोक्ताओं, विशेषकर युवाओं एवं बच्चों के लिए व्‍यापक वित्तीय और सामाजिक-आर्थिक जोखिम होने को ध्‍यान में रखते हुए सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने दो एडवाइजरी जारी कीं, जिनमें से एक एडवाइजरी निजी टेलीविजन चैनलों के लिए और दूसरी एडवाइजरी डिजिटल समाचार प्रकाशकों और ओटीटी प्लेटफॉर्मों के लिए है। इस एडवाइजरी […]

You May Like

Breaking News