मुद्दा- NJPC से विस्थापित 10 पंचायतों के प्रतिनिधियों की दो टूक- बिजली उत्पादन की 1% रॉयल्टी न दी तो करेंगे उपचुनावों का बहिष्कार

नाथपा – झाकड़ी परियोजना विस्थापित कल्याण समिति बोली-
परियोजना से सालाना करोड़ों की रॉयल्टी मिलने से क्षेत्र  के हजारों परिवार होंगे लाभान्वित

एप्पल न्यूज़, रामपुर बुशहर

देश की सब से बड़ी भूमिगत परियोजना 1500 मेगावाट की नाथपा झाकड़ी क्षेत्र के लोगो ने उप  चुनाव  आते देख एक फीसदी रायल्टी की मांग उठानी  आरम्भ कर दी  है। नाथपा झाकड़ी परियोजना विस्थापित कल्याण समिति के बैनर तले रामपुर क्षेत्र की प्रभावित दस पंचायतो के प्रधानों और अन्य प्रतिनिधियों ने बैठक  कर भावी रणनीति बारे चर्चा की।

 उन्होंने  पावर पॉलिसी 2008 के अनुसार परियोजना प्रभावित
क्षेत्र के लोगों को कुल बिजली उत्पादन का 1 फ़ीसदी रॉयल्टी के रूप में देने की मांग प्रमुखता से उठानी शुरू कर दी है  उन्होंने बताया की पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा ने चुनावी घोषणा पत्र में भी 9 नंबर पर यह मुद्दा  रखा था लेकिन यह कोरे आश्वासनों में परिवर्तित हो गया है।

बैठक के दौरान रणनीति बनी की आगामी लोकसभा उपचुनाव  में ऐसे उम्मीदवार को आगे लाया जाए जो उनकी मांग विधानसभा व लोकसभा तक प्रभावी ढंग से उठा सके।
बैठक में यह भी निर्णय लिया गया की सभी पंचायतों में बैठक कर  जनमत संग्रह किया जाएगा। उसके बाद जरूरत पड़ी तो इस उपचुनाव   का बहिष्कार किया जाएगा और उनकी मांग रहेगी कि जब तक 15 मेगावाट की देश की सबसे बड़ी भूमिगत परियोजना से रॉयल्टी के रूप में मिलने वाला हिस्सा नहीं मिलता तब तक लोग विरोध  करते रहेंगे।

उन्होंने बताया हजारो बिधा उपजाऊ भूमि परियोजना निर्माण के लिए राष्ट्र हित  में उन्होंने दिया लेकिन बदले में उन्हें रायल्टी भी नहीं दी जा रही है।

नाथपा झकरी परियोजना विस्थापित कल्याण समिति अध्यक्ष भगत राम भारती ने बताया भाजपा सरकार के समय 2008-9 में नोटिफिकेशन जारी हुआ था जिसमें समस्या हल करने का वादा किया था।  लेकिन उसी दल की सरकार होते हुए इस दिशा में वर्तमान में आनाकानी की जा रही है। जिसका लोगों में भारी रोष है।

आने वाले उपचुनाव में सभी पंचायतें इस पर निर्णय लेगी कि जो उप चुनाव होने जा रहे हैं उसमें  जो  प्रतिनिधि होंगे क्या वे  इस मांग को लोकसभा व विधानसभा में उठाने की कोई गारंटी देते है। जरूरत पड़ी तो  लोग इस  चुनाव का बहिष्कार करेंगे।

पंचायत प्रधान कमल द्रेक ने  बताया कि परियोजना प्रभावित पंचायतों के सभी प्रधान उपस्थित रहे। जिन्होंने 1% रॉयल्टी  के रूप में परियोजना से लेने का निर्णय लिया है. जब तक सरकार एवं परियोजना निर्माता कोई सकारात्मक कदम नहीं उठाते तब तक वे विरोध करते रहेंगे और विस्थापित कल्याण समिति का समर्थन करते रहेंगे।

पंचायत प्रधान  फुंजा शशि  ज़िंटा  ने   बताया  नाथपा झाकड़ी विस्थापित  कल्याण समिति की जो बैठक रखी गई थी. उसमें परियोजना प्रभावित सभी पंचायतों के प्रधान एकत्रित हुए। हम यहाँ  इसलिए आए हैं कि जो परियोजना प्रभावितों को 1% कुल बिजली उत्पादन का रायल्टी  मिलनी थी वह नहीं मिल रहा है। और लोगों की यही डिमांड है कि 1% रॉयल्टी के रूप में
दिया जाए

Share from A4appleNews:

Next Post

कांग्रेस ने जारी की स्टार प्रचारकों की लिस्ट, बघेल, चन्नी व कन्हैया कुमार सहित 20 नेता करेंगे हिमाचल में प्रचार

Fri Oct 8 , 2021
एप्पल न्यूज़, शिमला अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने हिमाचल प्रदेश में मंडी संसदीय क्षेत्र सहित अर्की,जुब्बल कोटखाई व फतेहपुर विधानसभा उप चुनावों के लिये स्टार प्रचारकों की सूची जारी कर दी है। एआईसीसी महासचिव के.सी.बेनुगोपाल द्वारा जारी सूची में भूपेश बघेल, चरणजीत सिंह चन्नी, भूपेंद्र सिंह हुड्डा, आनंद शर्मा,प्रदेश मामलों […]

Breaking News