IMG_20220716_192620
IMG_20220716_192620
previous arrow
next arrow

PM की सुरक्षा मामले में ‘गांधी’ की शरण में हिमाचल BJP, यह दिन भारत के इतिहास में एक काले दिन के रूप में याद किया जाएगा -कपूर

भारत के इतिहास में कभी भी किसी राज्य पुलिस बल को प्रधान मंत्री की सुरक्षा व्यवस्था को पटरी से उतारने का निर्देश नहीं दिए गए थे

एप्पल न्यूज़, शिमला

भाजपा हिमाचल प्रदेश द्वारा रिज मैदान शिमला पर कांग्रेस एवं पंजाब सरकार की खिलाफ एक मौन धरना प्रदर्शन का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता भाजपा प्रदेश महामंत्री त्रिलोक कापूर द्वारा की गई।
त्रिलोक कापूर ने इस अवसर पर कहा कि हमारे देश ने एक अभूतपूर्व स्थिति देखी है, पंजाब में हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में जिस तरह की भयावह और चौंकाने वाली चूक हुई है, वह बेहद चौंकाने वाली और निंदनीय है, देश ने न तो आतंकवाद के सबसे बुरे दिनों में और न ही आतंक प्रभावित क्षेत्रों में ऐसी स्थिति का सामना किया है।


यह दिन भारत के इतिहास में एक काले दिन के रूप में याद किया जाएगा जब कांग्रेस पार्टी के खूनी मंसूबे पंजाब की पवित्र भूमि में विफल हो गए।  पूरे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से नफरत करने वाले कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने आज प्रधानमंत्री की सुरक्षा का मजाक बनाने में अहम भूमिका निभाई और प्रधानमंत्री की सुरक्षा को विफल करने की कोशिश की।
उन्होंने कहा भारत के इतिहास में कभी भी किसी राज्य पुलिस बल को प्रधान मंत्री की सुरक्षा व्यवस्था को पटरी से उतारने का निर्देश नहीं दिए गए थे और न ही किसी राज्य सरकार ने देश के प्रधान मंत्री को चोट पहुंचाने की साजिश रची थी।
उन्होंने कहा भारतीय जनता पार्टी बार-बार कह रही है कि कांग्रेस पार्टी और उसके नेता नरेंद्र मोदी से नफरत करते हैं, लेकिन उन्हें पूरे देश के प्रधान मंत्री से नफरत और अपमान करने का कोई अधिकार नहीं है।
प्रधान मंत्री की सुरक्षा के लिए एक सेट प्रोटोकॉल है। लेकिन आज एक जानबूझकर विलंब किया गया जिससे यह दिखता है कि पंजाब ने हमारे देश के प्रधान मंत्री के सुरक्षा प्रोटोकॉल के साथ मज़ाक किया है।
उन्होंने कहा इससे भी अधिक चौंकाने वाली और निंदनीय बात यह है कि कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में घोर चूक पर प्रसन्नता व्यक्त की है।  कांग्रेस पार्टी के नेता क्या जश्न मना रहे हैं कि आज उनकी अक्षम और बेहद गैरजिम्मेदार सरकार देश के प्रधानमंत्री को मौत की ओर ले गई?
कापूर ने कहा जब प्रधानमंत्री की सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मियों ने पंजाब सरकार में उच्च अधिकारियों से संपर्क करने की कोशिश की, तो पंजाब के मुख्यमंत्री कार्यालय ने बात नहीं की।  पंजाब में कांग्रेस सरकार किसका इंतजार कर रही थी?
यह एक बड़ा कारण है कि आज भाजपा पंजाब में राष्ट्रीपति शासन लागू करने की मांग करती है। पंजाब की हालत को सुधारने का यह एक ही उपाय है।
इस प्रदर्शन में शिमला की  विधायक बलबीर वर्मा, महापौर सत्या कौंडल, चेयरमैन गणेश दत्त, प्रदेश कोषाध्यक्ष संजय सूद, सचिव कुसुम सदरेट, मीडिया प्रभारी कर्ण नंदा, ज़िला अध्यक्ष रवि मेहता, मंडल अध्यक्ष राजेश शारदा, दिनेश ठाकुर, जितेंद्र भोटका, भाजपा के नगर निगम पार्षद, ज़िला एवं मंडल पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Share from A4appleNews:

Next Post

हिमाचल के नेरवा व डलहौजी के समीप 2 कार हादसों में 2 की मौत 3 घायल

Fri Jan 7 , 2022
एप्पल न्यूज, शिमला हिमाचल प्रदेश में शुक्रवार सुबह दो सड़क हादसों में 2 लोगों की जान चली गई। जबकि 3 लोग घायल हो गए हैं। पहला हादसा शिमला जिला के नेरवा में 7 बजे हुआ जहां ऑल्टो कार हादसे का शिकार हो गई। HP-08A-5188 कार में दो व्यक्ति सवार थे […]

You May Like