IMG-20220814-WA0007
IMG-20220807-WA0013
IMG-20220807-WA0014
IMG-20220914-WA0015
IMG_20220926_230519
previous arrow
next arrow

अंतरराष्ट्रीय कुल्लू दशहरा उत्सव के तीसरे दिन 7 को होगी महानाटी, पारम्परिक परिधानों में सुसज्जित 8000 से अधिक महिलाएं लेंगी भाग -गोविंद ठाकुर

IMG_20220803_180317
IMG_20220803_180211
IMG-20220915-WA0002
IMG-20220921-WA0029
previous arrow
next arrow

एप्पल न्यूज़, कुल्लू

कुल्लू का सुप्रसिद्ध अंतरराष्ट्रीय लोक नृत्य उत्सव दशहरा आगामी 5 अक्तूबर से शुरू होगा और सप्ताह भर चलेगा। दशहरा उत्सव की तैयारियों को लेकर आज कुल्लू के देवसदन में शिक्षा व भाषा एवं संस्कृति मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने समस्त हितधारकों के साथ एक बैठक कर विस्तृत परिचर्चा की।
गोविंद ठाकुर ने कहा कि दो साल कोरोना के चलते अंतरराष्ट्रीय लोक नृत्य उत्सव में सांस्कृतिक संध्याओं का आयोजन नहीं किया जा सका और न ही खेलें व अन्य बहुत सारी गतिविधियों को आयोजित किया जा सका।

इस बार बड़े पैमाने पर दशहरा उत्सव को मनाया जाएगा और अनेक नई गतिविधियों को इसमें शामिल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि उत्सव के तीसरे दिन महानाटी का आयोजन किया जाएगा।

इसमें जिला भर से महिलाएं अपने पारम्परिक परिधानों और आभूषणों में सुसज्जित होकर जिला की संस्कृति का बखान देश-विदेशों तक करेंगी।

इस आयोजन से व्यापारियों को भी लाभ होगा। अनेक प्रकार के पारम्परिक आभूषणों की खरीद महिलाएं करेंगी। उन्होंने कहा कि इस बार महानाटी में 8000 से अधिक महिलाओं को आमंत्रित किया जाएगा।

इसके लिये जिला पर्यटन विकास अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी व खण्ड विकास अधिकारियों को महिला मण्डलों से संपर्क करने को कहा है।

उन्होंने कहा कुल्लू की महानाटी पहले ही गिन्नीज वर्ल्ड ऑफ रिकार्ड में अपना नाम दर्ज करवा चुकी है और जिला के लिये यह गौरव की बात है।
शिक्षा मंत्री ने कहा कि लाल चंद प्रार्थी कलाकेन्द्र का कायाकल्प किया जाएगा। इसके लिये एक वृहद योजना तैयार की गई है। उनहोंने इसका कार्य उत्सव आरंभ होने से पूर्व पूरा करने के लिये लोक निर्माण विभाग को निर्देश दिये।

उन्होंने कहा कि उत्सव की आखिरी संध्या पूरी तरह से हिमाचली कलाकारों के लिये होगी और इसे पहाड़ी नाईट का थीम दिया गया है। इसमेें मुख्य कलाकारों सहित कुल 70 कलाकार परफोर्म कर सकेंगे।

बैठक में अवगत करवाया गया कि उत्सव की सांस्कृतिक संध्याओं का स्तर बहुत अच्छा हो, इसके लिये श्रेणी-तीन व चार के कलाकारों की ऑडिशन इस माह के अंत में की जाएगी और इसकी तिथियां जल्द घोषित की जाएंगी।

इसके लिये समिति का पहले ही गठन किया जा चुका है। स्थापित कलाकारों को श्रेणी बी में रखा गया है और ए श्रेणी में सिने जगत के पार्श्व गायकों को रखा गया है।
बैठक में अवगत करवाया गया कि 5 अक्तूबर को पहली सांस्कृतिक संध्या का थीम सूफी गायन, दूसरी संध्या का पंजाबी संध्या, तीसरी संध्या कब्बाली कार्यक्रम, चाथी संध्या कॉमेडी व स्टार नाईट, पांचवी संध्या अमृत सहोत्सव व पुलिस बैण्ड, छटी संध्या सुपर स्टार नाईट जबकि 11 अक्तूबर की अंतिम संध्या पहाड़ी नाईट थीम पर आधारित होंगी।

सभी संध्याओं में प्रदेश के अलग-अलग जिलों के लोक सांस्कृतिक दल अपनी प्रस्तुति देंगे। देश के विभिन्न राज्यों के अलावा विदेशों से भी सांस्कृतिक दलों को आमंत्रित किया गया है।
मंत्री को जानकारी दी गई कि इस बार स्मारिका भी नये स्वरूप में प्रकाशित की जा रही है। इसमें जिलाभर के स्कूली व कॉलेजों के बच्चों की प्रतियोगिताएं करवाकर सबसे अच्छे लेख व चित्रों को इसमें शामिल किया जाएगा।

स्मारिका में कुल्लू तब और अब थीम पर बहुत अधिक सामग्री को सम्मिलित किया जाएगा। मंत्री ने स्मारिका समिति में गैर सरकारी सदस्यों को भी शामिल करने की बात कही।
शिक्षा मंत्री ने उत्सव के दौरान देवी-देवताओं की सुविधा के लिये पेयजल, शौचालयों व किये जाने वाले अन्य प्रबंधों पर विशेष ध्यान देने के लिये संबंधित विभागों को निर्देश दिये। सांस्कृतिक दलों व पुलिस बलों के लिये ठहरने की उचित व्यवस्था के लिये भी निर्देश दिये।
गोविंद ठाकुर बैठक में कुछ अधिकारियों के नदारद रहने पर नाराज दिखे। उन्होंने कहा कि दशहरा जिला का महापर्व है और प्रत्येक अधिकारी की इसे सफल बनाने में भूमिका रहती है।
उपायुक्त ने स्वागत किया तथा समस्त बिंदुओं पर की गई तैयारियों पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि दशहरा उत्सव धूमधाम के साथ मनाया जाएगा और दर्शकों व आगन्तुकों की सुविधा का पूरा ख्याल रखा जाएगा।

उन्होंने कहा कि देव परम्परा का यह महापर्व है और इसमें देव संस्कृति को प्रमुख स्थान दिया जाता है। उन्होंने कहा कि दशहरा उत्सव के विभिन्न आयोजनों का बखान राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किया जाएगा ताकि जिले का पर्यटन बढ़े और स्थानीय व्यापारियों व होटलियरों को भी लाभ पहंुंचे।
अतिरिक्त उपायुक्त प्रशांत सरकैक ने बैठक की कार्यवाही का संचालन किया।
विधायक सुरेन्द्र शौरी, पूर्व सांसद एवं श्री रघुनाथ जी के छड़ीवरदार महेश्वर सिंह, हि.प्र. एग्रो इण्डस्ट्रीज के उपाध्यक्ष युवराज बोद्ध, मीडिया सह प्रभारी अमित सूद, कारदार संघ के प्रधान दोत राम, कारदार संघ के अन्य पदाधिकारी, नगर परिषद कुल्लू के अध्यक्ष गोपाल कृष्ण महंत, मनाली के अध्यक्ष चमन ठाकुर, भुंतर की अध्यक्ष मीना ठाकुर, भाजपा सचिव तरूण बिमल, मंजरी नेगी, बीना ठाकुर, नयना कंबोज व पुलिस अधीक्ष गुरदेव शर्मा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी बैठक में उपस्थित रहे।

Share from A4appleNews:

Next Post

राज्य सरकार कर्मचारियों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध: जय राम ठाकुर

Tue Sep 20 , 2022
एप्पल न्यूज़, कांगड़ा मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कांगड़ा में ‘मुख्यमंत्री की एक शाम, कांगड़ा के कर्मचारियों के नाम’ कार्यक्रम में भारी संख्या में मौजूद कर्मचारियों को संबोधित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने कोविड महामारी के बावजूद प्रदेश के सभी कर्मचारियों और अधिकारियों के बकाया […]

You May Like

Breaking News