‘रोटी बाजार की वस्तु न बने, वह जरूरत की वस्तु है’ ‘अग्निपथ’ फैक्टरियों के लिए सरकारी सस्ता मजदूर तैयार करने की योजना- राकेश टिकैत

एप्पल न्यूज़, नालागढ़

केंद्र सरकार ने किसानों की कुछ मांगों को माना है और जो मांगें रह गई हैं, उन्हें लेकर देश में बड़े आंदोलन की जरूरत है। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि रोटी बाजार की वस्तु न बने, वह जरूरत की वस्तु है।

इसके लिए भोजन पर बड़ी कंपनियों का अधिकार समाप्त होना चाहिए। सभी फसलों पर उचित एमएसपी मिलनी चाहिए, ताकि किसानों को उनकी मेहनत का सही मेहनताना मिलना चाहिए। यह बात राकेश टिकैत ने नालागढ़ दौरे के पर पत्रकारवार्ता के दौरान कही।

राकेश टिकैत ने केंद्र सरकार द्वारा सेना में भर्ती के लिए लाई गई अग्निपथ योजना को सिरे से नकारते हुए कहा कि यह सरकार का फैक्टरियों के लिए सरकारी सस्ता मजदूर तैयार करने की योजना है।

उन्होंने कहा कि अग्निपथ योजना के विरोध में पूरे देश में जिला मुख्यालयोंं पर धरना प्रदर्शन किया जाएगा और इस योजना को वापस लेने की मांग की जाएगी।

उन्होंने कहा कि राजनितिज्ञों पर भी इस तरह की योजना लाई जानी चाहिए कि कोई एक चुनाव के बाद दूसरा चुनाव न लड़ सके।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार किसानों बागबानोंं को लाभ देने के लिए ट्रांसपोर्ट सबसिडी दे। उन्होंने कहा कि हिमाचल में किसानों की जमीनें छीनने का प्लान तैयार किया जा रहा है। इसको लेकर सरकार से बात की जाएगी।

इस अवसर पर नालागढ़ के विधायक लखविंद्र राणा, भाकियू के प्रदेशाध्यक्ष अनिंद्र सिंह नौटी, हरियाणा के महासचिव भूपिन्द्र सिंह लाडी, उत्तर प्रदेश यूथ विंग के अध्यक्ष अनूप सिंह, इंटक प्रदेशाध्यक्ष हरदीप सिंह बावा, भाकियू जिलाध्यक्ष सुरमुख सिंह, महिन्द्र सिंह, परमजीत सिंह जौली, गुरचरण सिंह, कुलदीप सिंह सहित दर्जनों किसान उपस्थित रहे।

Share from A4appleNews:

Next Post

SNCU में तैनात आउटसोर्स स्टाफ नर्से सरकार से नाराज़, न पॉलिसी न इंक्रीमेंट 24 घण्टे काम कर घटाई शिशु मृत्यु दर

Thu Jun 23 , 2022
एप्पल न्यूज़, शिमला आठ सालों से एसएमसीयु (स्पेशल न्यू बोर्न केयर युनिट) मे तैनात की गई एनएचएम ऑउट सोर्स स्टाफ नर्सो ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। नर्सो ने पॉलिसी बनाने और वेतन मे वृद्धि की जाए। उनका कहना है कि इनकी आठ वर्षो की सेवाओ से हिमाचल […]

You May Like

Breaking News